मैट्रिक-इंटर परीक्षा को लेकर बिहार बोर्ड का बड़ा फैसला, डेढ़ घंटे बाद वापस ले ली जाएगी OMR

मैट्रिक-इंटर परीक्षा को लेकर बिहार बोर्ड का बड़ा फैसला, डेढ़ घंटे बाद वापस ले ली जाएगी OMR

- in नया-नया
402
0
dailybihar, india news, news in hindi, latest news in hindi, बिहार समाचार, bihar news, bihar news in hindi, bihar news hindi matric, matric exam answer sheet, bseb, theft case, katihar news, चोरी, मैट्रिक परीक्षा, मैट्रिक की कॉपियां. कटिहार न्यूज, बिहार मैट्रिक परीक्षा

बोर्ड ने कहा है कि मैट्रिक-इंटर के एडमिट कार्ड में फोटो से संबंधित कोई भी सुधार परीक्षा के बाद होगा। इसके लिए अभ्यर्थी को परीक्षा के बाद बोर्ड के समक्ष अपने कागजात, आधार कार्ड, पैन कार्ड, वोटर कार्ड अादि को साक्ष्य के रूप में प्रस्तुत करना होगा। परीक्षा के लिए जारी एडमिट कार्ड में गड़बड़ी है तो परीक्षार्थी पहचान पत्र के साथ परीक्षा में शामिल हो सकते हैं।

इंटर अाैर मैट्रिक की वार्षिक परीक्षा में परीक्षा शुरू होने के डेढ़ घंटे के बाद ओएमआर शीट वापस ले ली जाएगी। ओएमआर शीट पर परीक्षार्थियाें को ऑब्जेक्टिव सवालों के जवाब देने हैं, इसके बाद वे सब्जेक्टिव सवालों का जवाब उत्तरपुस्तिका पर लिखेंगे। बिहार बोर्ड की ओर से जारी निर्देश के अनुसार पहली पाली में सुबह 9.30 से दोपहर 12.45 तक चलनेवाली परीक्षा में सुबह 11 बजे, जबकि दोपहर 12.15 तक चलनेवाली परीक्षा में 10.45 बजे ओएमआर शीट ले ली जाएगी। दूसरी पाली में दोपहर 1.45 से 5 बजे तक चलनेवाली परीक्षा में दोपहर 3.15 बजे तथा 4.30 बजे तक चलनेवाली परीक्षा में दोपहर 3 बजे ओएमआर शीट ले ली जाएगी।

इंटरमीडिएट की वार्षिक परीक्षा 3 से 13 फरवरी और मैट्रिक की 17 से 24 फरवरी तक होगी। बिहार बोर्ड ने कहा है कि मैट्रिक व इंटर की सेंटअप जांच परीक्षा में अनुत्तीर्ण या अनुपस्थित छात्रों का एडमिट कार्ड मान्य नहीं होगा। पहली पाली के परीक्षार्थियों को परीक्षा शुरू होने के 10 मिनट पहले सेंटर पर प्रवेश कर लेना होगा। सुबह 9:30 बजे की परीक्षा के लिए 9:20 तक जबकि दूसरी पाली में दोपहर 1:45 बजे की परीक्षा के लिए 1:35 बजे तक परीक्षा भवन में प्रवेश कर लेना होगा। लेट होने पर सेंटर में प्रवेश की अनुमति परीक्षार्थियों को नहीं मिलेगी। मैट्रिक और इंटर दोनों के परीक्षार्थी को परीक्षा कक्ष में 15 मिनट का अतिरिक्त समय प्रश्न-पत्र, उत्तरपुस्तिका, ओएमआर उत्तर पत्रक आदि को पढ़ने एवं समझने के लिए दिया जाएगी।

परीक्षा कक्ष में एक-दूसरे से मदद लेने या देने, बातचीत अथवा कदाचार करते हुए पकड़े जाने पर परीक्षा से निष्कासित किया जाएगा। कॉपी एवं ओएमआर शीट पर व्हाइटर, इरेजर, नाखूल, ब्लेड अादि का इस्तेमाल वर्जित है। बोर्ड ने परीक्षार्थियों को जूता-मोजा पहन कर परीक्षा देने आने से रोक दिया है। जूता-मोजा पहन कर परीक्षा भवन में प्रवेश की अनुमति नहीं दी जाएगी। एडमिट कार्ड और पेन के अलावा कुछ भी परीक्षा भवन में नहीं लाना होगा। दिव्यांग परीक्षार्थियों को प्रति घंटा 20 मिनट का अतिरिक्त समय दिया जाएगा।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

सरकारी नियोजित मास्टरों पर CM नीतीश कुमार का चला डं’डा, बर्खास्त करने का दिया आदेश

PATNA : नियोजित शिक्षकों की हड़ताल के बीच