लॉकडाउन में घर से बाहर निकलने से मना करने पर बेटे ने पिता को जमकर पीटा, पुलिस ने किया गिरफ्तार

लॉकडाउन में घर से बाहर निकलने से मना करने पर बेटे ने पिता को जमकर पीटा, पुलिस ने किया गिरफ्तार

- in अभी-अभी
548
0

लॉकडाउन में घर से बाहर निकलने से मना करने पर बेटे ने पिता की पिटाई कर दी। मामला आशियाना नगर के पास का है। पिता बैंक में अधिकारी हैं और बेटा पढ़ाई छोड़ चुका है। पिता ने राजीवनगर थाने को फोन कर इसकी शिकायत की।

पुलिस मौके पर पहुंची और बेटे को उसके बाइक के साथ थाने ले आई। उसे थाने में बिठा कर दिनभर रखा और जमकर फटकार लगाई। देर शाम पिता खुद थाने पहुंचे और मामला दर्ज कराने से इनकार कर दिया। पिता के अनुरोध के बाद बेटे को पुलिस ने हिदायत देकर छोड़ दिया। थानेदार निशांत कुमार सिंह ने कहा कि पिता के कहने पर बेटे को हिदायत देकर छोड़ दिया गया। हुआ यह कि बेटा लॉकडाउन के दौरान तफरी करने के ख्याल से बाइक लेकर घर से बाहर निकलना चाह रहा था। पिता ने घर में ही रहने को कहा। बेटे की आदत से पिता वाकिफ थे। वह पढ़ाई भी छोड़ चुका है। पिता ने पुलिस से कहा कि मुझे लगा कि बाहर निकलकर लॉकडाउन में आवारागर्दी करेगा इसलिए मना किया तो मुझसे ही मारपीट करने लगा। उन्होंने डायल 100 पर फोन कर घटना की जानकारी दी और राजीव नगर थाने की पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने पिता की िशकातय पर बेटे को अपने साथ ले गई। बाद में पिता की अनुरोध पर उसे हिदायत के साथ छोड़ दिया।

बिहार में कोरोना से जिसकी पहली मौत, उसके परिवार की एक महिला और पड़ोसी बच्चे की जांच रिपोर्ट भी पॉजिटिव

बिहार में काेराेना से पहली माैत के रूप में मुंगेर के जिस युवक की जान गई थी, उसके घर की एक महिला व पड़ोसी के एक बच्चे की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव अाई है। महिला 38 साल, जबकि बच्चा 12 साल का है। अब तक बिहार में कोरोना के छह पॉजिटिव केस मिले हैं। बुधवार को जाे दो नए पॉजिटिव केस आए वे अभी तक अपने घरों में ही हैं। दोनों को गुरुवार को जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज अस्पताल, भागलपुर ले जाया जाएगा। मुंगेर के युवक की मौत 21 मार्च को एम्स को हो गई थी। वह कतर में चालक था। एम्स प्रशासन ने जबरन उसके परिजनाें काे उसका शव साैंप दिया था। बाद में िरपाेर्ट अाई ताे उसमें काेराना की पुष्टि हुई। इसके बाद मृतक के घर वालों व पड़ोसियाें को होम क्वेरेंटाइन कर दिया गया था। साथ ही उसके संपर्क में अाने वाले 59 लाेगाें के सैंपल लिए गए। इनमें दाे की रिपाेर्ट पाॅजिटिव अाई है। अारएमअारअाई निदेशक डॉ प्रदीप दास ने इसकी पुष्टि की है।

इधर, बुधवार से देशभर में लाॅकडाउन लागू हाे गया। प्रधानमंत्री नरेंद्र माेदी ने एक बार फिर लाेगाें से साेशल डिस्टेंसिंग का गंभीरता से पालन करने काे कहा। बोले-महाभारत का युद्ध 18 दिन में जीता गया था, जबकि काेराेनावायरस के खिलाफ जंग जीतने के लिए 21 दिन जरूरी हैं। इसी बीच, देश में बुधवार को 91 नए मरीज सामने आए। अब कुल संख्या 659 हो गई है। चिंता की बात यह है कि 30 जनवरी से 21 मार्च तक देश में संक्रमितों की संख्या 334 थी, जो पांच दिन में ही दोगुनी हो गई है। 41 मरीज ठीक हाे चुके हैं, जबकि 12 लाेगाें की जान जा चुकी है। बुधवार को मध्यप्रदेश में पहली मौत हुई। वहीं, बेंगलुरू में भी 75 साल की बुजुर्ग ने दम ताेड़ दिया। वह हाल ही में मक्का से लाैटी थी। तीसरी मौत सूरत में 85 साल के बुजुर्ग महिला की हुई।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

जावेद अख्तर बोले – अगर काबा और मदीना बंद हो सकते हैं तो भारत की मस्जिदें क्यों नहीं?

New Delhi : देशभर में Corona Virus संक्रमण