घर में बैठे-बैठे हो रहे हैं बोर, तो देखे ये फ़िल्में, जो देगी आपको कोरोना इफेक्‍ट वाली फील

घर में बैठे-बैठे हो रहे हैं बोर, तो देखे ये फ़िल्में, जो देगी आपको कोरोना इफेक्‍ट वाली फील

atna: चीन के वुहान शहर से शुरू हुआ को’रोना वाय’रस कोविड 19 दुनिया के कई देशों में पांव पसार चुका है. चीन और इटली समेत कुछ देशों में इसका विकराल रूप सामने आया. हज़ारों लोगों की मौत हो गयी. धीरे-धीरे वा’यरस दुनिया के बाक़ी देशों में फैल रहा है. भारत में भी कोविड 19 की दस्तक हो चुकी है. 400 से अधिक मामले सामने आ चुके हैं. सरकारी मशीनरी और स्वास्थ्य संस्थाएं लगातार इस पर काबू पाने की ज़द्दोजहद मे जुटे हैं. लोगों को एहतियात बरतने की एडवायज़री जारी की गयी हैं.

इसी कड़ी मे 22 मार्च को देशभर में जनता कर्फ़्यू का आयोजन किया गया है. जो लोग हॉलीवुड सिनेमा में दिलचस्पी रखते हैं, उन्हें कोरोना वायरस के बाद पैदा हुए हालात बिल्कुल फ़िल्मी दृश्यों की तरह लग सकते हैं, क्योंकि पश्चिमी सिनेमा में ऐसी कई फ़िल्में आ चुकी हैं, जिनकी कहानी का खलनायक कोई इंसान नहीं बल्कि एक अज्ञात वायरस होता है, जो आबादी के बड़े हिस्से का सफ़ाया कर देता है. आइए, ऐसी ही फ़िल्मों पर सरसरी नज़र डालते हैं.

2011 में आयी कंटेजियन (Contagion) इस वक़्त इंटरनेट पर ख़ूब सर्च की जा रही है. कोरोना वायरस के आउटब्रेक से मिलती-जुलती कहानी पर बनी कंटेजियन की कहानी एक वायरस के फैलने और फिर उससे बचाव के लिए वैक्सीन विकसित करने पर आधारित थी. इस फ़िल्म में मैट डेमन, केट विंस्लेट, मैरियन कोटिलार्ड और जूड लॉ जैसे दमदार कलाकारों ने काम किया था.

1995 में आयी आउटब्रेक एक मेडिकल डिजास्टर फ़िल्म है, जो द हॉट ज़ोन नाम की नॉन फिक्शन बुक पर आधारित थी. इस फ़िल्म में ईबोला जैसे वायरस मोटोबा के आउटब्रेक को कहानी का आधार बनाया गया था. अफ्रीकन देश से निकलकर वायरस अमेरिका पहुंचता है और फिर देखेते ही देखते पैनडेमिक का रूप ले लेता है. फ़िल्म में डस्टिन हॉफमैन, रिनी रूसो, मोर्गन फ्रीमैन जैसे कलाकारों ने काम किया था.

2000 में आयी अमेरिकन थ्रिलर फ़िल्म क्वारनटाइन वायरस अटैक की कहानी है, जिसमें एक आतंकी संगठन वायरस को हथियार बनाकर दुनिया पर हमला बोलता है. इनके अलावा रेज़िडेंट ईविल सीरीज़, वर्ल्ड वॉर ज़ेड, आई एम लीजेंड ऐसी फ़िल्में हैं, जिनमें किसी वायरस के आउटब्रेक से दुनिया के ख़त्म होने और कुछ लोगों के सर्वाइव करने की कहानी दिखायी गयी.

अगर भारतीय सिनेमा की बात करें तो वायरस आउटब्रेक और पैनडेमिक पर ज़्यादा फ़िल्में नहीं आयी हैं. अलबत्ता, यहां हाल ही में आयी मलयालम फ़िल्म वायरस का ज़िक्र करना लाज़िमी है. इस फ़िल्म की कहानी 2018 में केरल में हुए निप्हा वायरस के आउटब्रेक पर आधारित है.आशिक़ अबु निर्देशित फ़िल्म में कुंचाको बोबन और पार्वती तिरुवोथु ने मुख्य भूमिकाएं निभायीं.

भारतीय दर्शकों के लिए

Netflix पर मौजूद हैं यह Pandemic फ़िल्में और सीरीज़-

पैनडेमिक- वेब सीरीज़
रेज़िडेंट ईविल: द फाइनल चैप्टर- फ़िल्म
ट्रेन टू बुसान- फ़िल्म
कार्गो- फ़िल्म
93 डेज़- फ़िल्म
12 मंकीज़- फ़िल्म
Prime पर मौजूद हैं यह Pandemic फ़िल्में और सीरीज़-

कॉन्टेजियन- फ़िल्म
वर्ल्ड वॉर ज़ेड- फ़िल्म
12 मंकीज़- सीरीज़
द लास्ट शिप- सीरीज़
द कैरियर- फ़िल्म
(Photo- IMDB)

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

जावेद अख्तर बोले – अगर काबा और मदीना बंद हो सकते हैं तो भारत की मस्जिदें क्यों नहीं?

New Delhi : देशभर में Corona Virus संक्रमण