बगावत पर उतरे जदयू विधायक, तेजश्वी को बताया युवाओं का नेता, पार्टी बदलने की तैयारी शुरू

बगावत पर उतरे जदयू विधायक, तेजश्वी को बताया युवाओं का नेता, पार्टी बदलने की तैयारी शुरू

- in पॉलिटिक्स
515
0

PATNA: बिहार के दरभंगा जिला के हायाघाट से जनता दल युनाइटेड (JDU) विधायक अमरनाथ गामी बीते कुछ महीनों से अपनी ही पार्टी के खिलाफ बागी तेवर अपना चुके है. जिसने नीतीश कुमार की सरकार पर सवाल उठाए हैं. उन्होंने कहा कि बिहार में बड़े पैमाने पर बेरोजगारी है, जो कि पलायन का प्रमुख कारण है. विधायक के इस बयान को पार्टी अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने पब्लिसिटी स्टंट बताया है.

अमरनाथ गामी ने कहा, ‘बिहार में बेरोजगारी है, जो कि पलायन का कारण है. तेजस्वी यादव बेरोजगारी हटाओ यात्रा कर रहे हैं, लेकिन यह अकेले काफी नहीं है. बिना केंद्र की मदद के बेरोजगारी हटाना संभव नहीं है. बिहार में किसी भी सरकार ने रोजगार के लिए काम नहीं किया.’

जेडीयू विधायक के इस बयान पर पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने कहा, ‘किसी एक के समर्थन से कुछ नहीं होता है. यह सिर्फ पब्लिसिटी स्टंट है. जब जनता का समर्थन लोगों से छिन जाता है तो लोग इस तरह की हरकत करते हैं. इससे हमें कोई नुकसान नहीं होने वाला है.’

हायाघाट के जदयू विधायक अमरनाथ गामी ने बीते साल बिहार में फिर से शराब की बिक्री शुरू किए जाने की मांग की थी. विधायक गामी ने कहा था कि सरकार को जगह-जगह दो घंटे के लिए काउंटर खोलकर शराब की बिक्री की व्यवस्था करनी चाहिए. काउंटर से कम से कम 1500 रुपये की शराब की बिक्री होनी चाहिए.

दिसंबर में मिथिला लोक उत्सव में स्थानीय कलाकारों की उपेक्षा एवं उन्हें नाममात्र भुगतान किए जाने के विरोध में शनिवार को विधायक अमरनाथ गामी ने नेहरू स्टेडियम के गेट पर धरना दिया था. गामी का कहना था लोक उत्सव में 40 लाख का खर्च किया जाता है, लेकिन अधिकांश धन बाहरी कलाकारों के भुगतान और टेंट पंडाल, बिजली-बत्ती एवं अन्य साज-सजावट पर खर्च किया जाता है.

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

जावेद अख्तर बोले – अगर काबा और मदीना बंद हो सकते हैं तो भारत की मस्जिदें क्यों नहीं?

New Delhi : देशभर में Corona Virus संक्रमण