पटना के दवा दुकानों में नहीं मिल रहे सै’नेटाइजर, छह गुना अधिक कीमत पर बिक रहा मा’स्क

पटना के दवा दुकानों में नहीं मिल रहे सै’नेटाइजर, छह गुना अधिक कीमत पर बिक रहा मा’स्क

- in नया-नया
529
0

Patna: को’रोना वा’यरस के संक्र’मण का डर पटना में दिख रहा है. अधिकतर दवा दुकानों में सै’निटाइजर और मास्क नहीं मिल रहे हैं. जिन दुकानों में मा’स्क मिल भी रहा है वहां पांच से छह गुना अधिक कीमत वसूली जा रही है. हमने शहर के कई दुकानों में मा’स्क और सै’निटाइजर खरीदने की कोशिश की और देखा कि कैसे कुछ दुकानदार लोगों के ड’र का इस्तेमाल मोटा मुनाफा कमाने में कर रहे हैं.

एन-95 मास्क की कीमत 250 रुपए : राजीव नगर स्थित ओम मेडिकल की दुकान में एन-95 मास्क की कीमत पहले 250 रुपए बताई गई. अधिक कीमत की बात सुन दुकान के स्टाफ ने कहा कि आपके लिए 230 रुपए रेट लग जाएगा. हालांकि ऐसे मास्क की मूल कीमत 50-60 रुपए है. दुकानदार ने लोकल मास्क 53 रुपए में बेचा.

पटना मेडी केयर्स में लोकल मास्क के लिए 250 रुपए लिए गए।

खत्म हो गए मास्क : वेस्ट बोरिंग कैनाल रोड स्थित मेडिकाना के दो स्टोर पर मास्क और सैनिटाइजर नहीं मिले. इसी तरह ब्लू मेडिक्स दुकान में भी मास्क और सैनिटाइजर का स्टॉक खत्म हो गया था. बोरिंग रोड में स्थित सन फार्मा की दुकान में मास्क और सैनिटाइजर दोनों मौजूद थे. यहां सैनिटाइजर एमआरपी पर और मास्क 120 रुपए में बेचा गया. इस्ट बोरिंग कैनाल रोड स्थित दवा दुकान पटना मेडी केयर्स में सैनिटाइजर नहीं था. यहां मास्क उपलब्ध था. थाइलैंड में बने जिस मास्क को सन फार्मा ने 120 रुपए में बेचा उसके लिए यहां 250 रुपए वसूल किए गए.

मास्क-सेनेटाइजर की कालाबाजारी करने पर 7 साल की जेल : देश में को’रोना वा’यरस मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए केंद्र सरकार ने हैंड सेनेटाइजर और मास्क ( दो लेयर, तीन लेयर, सर्जिकल मास्क और एन-95) को अवाश्यक वस्तु में शामिल करने की अधिसूचना जारी की है. अब अगर हैंड सेनेटाइजर और मास्क की कोई कालाबाजारी करता है, तो उस पर दोष सिद्ध होने पर सात साल तक की जेल हो सकती है.

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

PMCH : बिहार के डॉक्टर रेन कोट पहन कर रहे हैं कोरोना मरीजों का इलाज

PMCH : बिहार के डॉक्टर रेन कोट पहन