बिहार में श’राबबंदी फेल, पटना पुलिस लाइन से श’राब संग सिपाही का बेटा गि’रफ्तार

बिहार में श’राबबंदी फेल, पटना पुलिस लाइन से श’राब संग सिपाही का बेटा गि’रफ्तार

- in अभी-अभी
405
0

बेतिया में पोस्टेड एक महिला सिपाही रेणु देवी के बेटे चंदन कुमार सहित दो को पटना पुलिस लाइन में श/राब की खेप के साथ गि/रफ्तार कर लिया गया। चंदन अपने दोस्त नागेंद्र राय के साथ यहां श/राब लेकर पहुंचा था। मौके से उसकी बाइक भी पकड़ी गयी। 32 बोतल श/राब पुलिस ने बरामद की है। इस छापेमारी के बाद पूरे पुलिस लाइन में ह’ड़कंप मच गया। श/राब माफिया नागेंद्र और चंदन ने यह कबूल किया कि उन्हें पुलिस लाइन के भीतर से श/राब लाने का ऑर्डर मिलता था।

दरअसल मंगलवार की शाम पुलिस अधिकारियों को यह खबर मिली कि श/राब बेचने वाला नागेंद्र और उसका साथी व महिला सिपाही का बेटा चंदन पुलिस लाइन के भीतर पहुंचे हैं। लाइन के भीतर निर्माणाधीन भवन के समीप दोनों खड़े हैं जहां पूर्व में खटाल चलता था। इस खबर के आधार पर पुलिस अफसरों ने मौके पर पहुंचकर छापेमारी कर दी। नागेंद्र और सिपाही का बेटा चंदन दोनों पकड़े गये।

खंगाला गया सीडीआर तो फं/सेंगे कई पुलिसवाले: अगर श/राब मा/फिया नागेंद्र और चंदन का सीडीआर खंगाला गया तो कई पुलिसवाले फंस सकते हैं। सूत्रों की मानें तो सीडीआर में एक भी पुलिसकर्मी का नंबर मिला तो उन पर गाज गिरनी तय है। पुलिस लाइन से पकड़े गये श/राब त/ स्करों के नेटवर्क को पुलिस खंगालेगी। श/राब किन लोगों की मदद से पटना तक लायी जाती थी ? इस धंधे में कौन-कौन लोग शामिल थे। इन सभी पहलुओं पर तफ्तीश होगी। श/राब का मामला सामने आने के बाद पुलिस लाइन के अधिकारी भी यहां कि गतिविधियों पर नजर रख रहे हैं। दरअसल पूर्व से ही लाइन में श/राब की खरीद-बिक्री का धंधा माफिया करते हैं। महज कुछ पुलिसवालों के चलते श/राब मा/फियाओं का मनोबल बढ़ता है।

पूर्व में भी लाइन में मिल चुकी है खाली बो/तलें : पूर्व में भी कई बार पटना पुलिस लाइन में श/राब की खाली बोतलें मिल चुकी हैं। श/राब तस्करों की तलाश में यहां कई बार छापेमारी भी हुई थी। न/शे में धु/त पुलिसवाले को इसी पुलिसलाइन से पकड़ा गया था। पहले भी लाइन के आसपास से श/राब मिल चुकी है।

नागेंद्र ने दबे मुंह कहा कि पुलिस लाइन में निचले रैंक के कुछ पुलिसवाले उन्हें श/राब का ऑर्डर देते थे। इसके बाद वह चंदन के साथ जाकर श/राब की सप्लायी करता था। हाजीपुर से श/राब की खेप पटना तक लायी जाती थी। हालांकि बीच में श/राब माफियाओं की भनक लगने पर लाइन डीएसपी आशीष सिंह ने खुद सख्ती बरती और छापेमारी भी की। लेकिन डीएसपी की गैर मौजूदगी में श/राब का खेल खेला जाने लगा।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

जदयू की बैठक में शामिल नहीं होंगे प्रशांत किशोर, सीएम नीतीश ने नहीं भेजा निमंत्रण पत्र

अभी-अभी राजधानी पटना से एक बड़ी खबर सामने