अभी-अभी : उपेंद्र कुशवाहा का बड़ा बयान, तेजस्वी को CM उम्मीदवार मानने से किया इंकार

रालोसपा अध्यक्ष ने दिया बड़ा बयान, महागठबंधन में तेजस्वी अभी नहीं हैं सीएम उम्मीदवार का चेहरा

बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर महागठबंधन का पेच सुलझता नहीं दिख रहा. रालोसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने सोमवार को कहा कि अभी महागठबंधन में अन्य पार्टियों को शामिल करने की बात चल रही है़ हमलोग वाम दलों को भी अपने साथ जोड़ना चाहते हैं. बीते दिनों दिल्ली में कांग्रेस नेताओं से इसको लेकर बात हो रही थी. सभी लोग महागठबंधन में एक साथ मिल कर चुनाव लड़ने की तैयारी में हैं.

उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के कारण अभी बात थोड़ी रुक गयी है़ महागठबंधन के सभी नेता आगे तय करेंगे कि महागठबंधन का सीएम उम्मीदवार कौन बने और विभिन्न पार्टियों में सीट बंटवारे को लेकर स्थिति स्पष्ट हो. बीते दिनों से कुशवाहा की ओर से तेजस्वी को सीएम उम्मीदवार मानने की बात मीडिया में चल रही है़ सोमवार को इस पर कुशवाहा ने अपनी बात कही.

वाम दलों ने विधानसभा चुनाव में अपने-अपने उम्मीदवारों को जीत दिलाने के लिए संयुक्त रूप से वर्चुअल तैयारी शुरू कर दी है. बूथ स्तर पर कमेटी बनाने का काम तेज किया गया है ताकि वाम दल अगस्त प्रथम सप्ताह तक यह तय कर पाएं कि कौन कहां से इस चुनाव में उम्मीदवार उतारेगा. वाम दल पहले खुद आपस में सीटों का बंटवारा करेंगे और उसके बाद महागठबंधन के शीर्ष नेताओं से मुलाकात करेंगे, ताकि सीट शेयरिंग में वह अपनी बात को रख सकें.

बता दें कि कुछ दिनों पहले वीआइपी के अध्यक्ष मुकेश सहनी ने दिल्ली में कांग्रेस नेता अहमद पटेल से मुलाकात की थी. मुकेश सहनी ने पूर्व केंद्रीय मंत्री शरद यादव से भी मुलाकात की थी. दूसरी ओर, पटना में हम के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व सीएम जीतन राम मांझी ने वीडियो संदेश जारी कर कहा था कि राजद को सदबुद्धि मिले, ताकि महागठबंधन में टूट नहीं हो.

अपने पार्टी के कार्यकर्ताओं व नेताओं के साथ वर्चुअल मीटिंग के बार जारी वीडियो में मांझी ने कहा कि उनको खुद भी अच्छा नहीं लगता कि महागठबंधन में सब कुछ ठीक करने के लिए बार-बार समय दिया जाये, लेकिन हमारी कोशिश है कि महागठबंधन में टूट नहीं हो, इसलिए हमलोग ऐसा कर रहे.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *