अभी-अभी : सुशान्त राजपूत केस में गिरफ्तार होंगे शिव सेना के नेता संजय राउत, बिहार में दर्ज हुआ FIR

SSR Death Case: संजय राउत और मुंबई पुलिस कमिश्नर की गिरफ्तारी के लिए बिहार पुलिस को दिया आवेदन, जानें पूरा मामला

पटना. सुशांत सिंह राजपूत (Sushant singh rajput) मौत मामले की जांच में अवरोध पैदा करने को लेकर हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा (Hindustani Awam Morcha) के प्रवक्ता ने महाराष्ट्र के सांसद संजय राउत (MP Sanjay Raut), बीएमसी के मेयर, बीएमसी के अधिकारी और मुंबई के पुलिस कमिश्नर (Mumbai Police Commissioner) के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई है. पटना के सचिवालय थाने में पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता दानिश रिजवान द्वारा दर्ज करवाई गई शिकायत में आरोप लगाया गया है कि इन लोगों ने पटनां पुलिस की जांच में अवरोध पैदा करने की कोशिश की. आवेदन में इन सभी के खिलाफ केस दर्ज कर गिरफ्तार करने की भी मांग की है.

सचिवालय थानाध्यक्ष को संबोधित दर्ज शिकायत में दानिश रिजवान ने लिखा है कि बिहार के होनहार बेटे सुशांत सिंह राजपूत मामले को लेकर पटना के राजीवनगर थाना में प्राथमिकी दर्ज की गई थी. इसके उपरांत उक्त मामले की जांच के लिए बिहार पुलिस की एक टीम मुंबई गई थी. परन्तु स्थानीय सरकार में शामिल सांसद संजय राउत, BMC के मेयर, BMC के अधिकारी एवं मुम्बई पुलिस कमिश्नर के गुंडागर्दी एवं अभद्र व्यवहार के कारण उक्त मामले की जांच नहीं हो पाई.

हम नेता ने आरोप लगाया है कि इनके आचरण से ऐसा लगता है कि सुशांत सिंह राजपूत मामले में कहीं ना कहीं इनलोगों का हाथ है और अपने लोगों को बचाने के लिए ये बिहार पुलिस की जांच में अवरोध पैदा कर रहें हैं. अत: अ नुरोध है कि उक्त मामले को लेकर उपरोक्त लोगों पर सुसंगित धाराओं में मुक़दमा दर्ज करते हुए उन्हें गिरफ़्तार करने की कृपा करें.

बता दें कि इससे पहले बिहार पुलिस के खिलाफ शिकायत दर्ज कराने वाले व्यक्ति पर पटना में एफआईआर दर्ज करवाई गई. बांद्रा पुलिस स्टेशन में शिकायत करवाने वाले अजय सिंह सेंगर पर विशाल सिंह नामक युवक ने पटना के राजीव नगर थाने में दर्ज करवाई गई एफआईआर (FIR) में आरोप लगाया है कि बिहार पुलिस (Bihar police) को मानसिक तौर पर प्रताड़ित किया गया है.

आरोप ये भी है कि कि ये सब मुंबई पुलिस और महाराष्ट्र सरकार एक सोची समझी साजिश के तहत कर रही है. बता दें कि बिहार डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने भी मुंबई पुलिस की कार्रवाई को घटिया बताया है. बिहार डीजीपी ने कहा कि इस कारवाई को पूरा देश देख रहा है कि मुंबई पुलिस ने किया वो कितना घटिया काम किया है. मर्यादा रखनी चाहिए, अब हम लोग तय करेंगे सुप्रीम कोर्ट के आदेश का इंतजार कर रहे हैं.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *