अभी-अभी : 24 घण्टे में फ्लोर टेस्ट करने से बचना चाह रही है BJP, राज्यपाल पर दबाव ना बनाये कोर्ट

सुप्रीम कोर्ट में बोले SG, 170 विधायकों के समर्थन के बाद राज्यपाल ने दिया न्योता

New Delhi : महाराष्ट्र की सियासी लड़ाई अब सुप्रीम कोर्ट पहुंच चुकी है। आज सुप्रीम कोर्ट में महाराष्ट्र को लेकर सुनवाई हो रही है। सुनवाई के दौरान सॉलिस्टर जनरल ने कहा कि राज्यपाल के पास 170 विधायकों का समर्थन पत्र आया जिसके बाद उन्होंनें देवेंद्र फडणवीस को न्योता दिया। फडणवीस के पास 170 विधायकों का समर्थन है।दूसरी ओर, बीजेपी लगातार दावा कर रही है कि उनके पास बहुमत है लेकिन शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस का कहना है कि बहुमत उनके पास है और जो विधायक अजित पवार के साथ गए थे वो भी वापस आ गए हैं। शिवसेना की ओर से साफ तौर पर कहा गया है कि बीजेपी में अगर हिम्मत है तो वह 30 नवंबर तक बहुमत साबित करके दिखाए।

एक तरफ हर किसी की नजर सुप्रीम कोर्ट पर है तो महाराष्ट्र में सियासत अपने चरम पर है। देवेंद्र फडणवीस और अजित पवार के बीच रविवार रात को लंबी बैठक हुई, साफ है कि बीजेपी के सामने चुनौती है कि अब विधानसभा में बहुमत साबित कैसे किया जाए। रविवार को हुई बीजेपी की बैठक में 118 विधायक पहुंचे, हालांकि पार्टी दावा कर रही है कि उनके पास 170 से अधिक विधायकों का समर्थन है।कांग्रेस, शिवसेना और एनसीपी की तरफ से डाली गई इस याचिका में कहा गया है कि महाराष्ट्र में जल्द से जल्द फ्लोर टेस्ट करवाया जाए। ताकि बहुमत साबित करे। तीनों पार्टियों का दावा है कि उनके पास जरूरी आंकड़ा है, जबकि देवेंद्र फडणवीस-अजित पवार के पास वह आंकड़ा नहीं है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *