कंगना के समर्थन में आई सुशांत की बहन श्वेता, महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन और राम राज को लेकर कही यह बात

बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत (Kangana Ranaut) के घर और ऑफिस में बीते दिन बीएमसी (BMC) ने तोड़-फोड़ की, जिसे लेकर कई बॉलीवुड सितारों ने भी नाराजगी जताई. इस बात को लेकर यहां तक कि कंगना रनौत ने भी वीडियो शेयर किया, साथ ही कहा कि जिस तरह मेरा घर टूटा है, उसी तरह उद्धव ठाकरे का घमंड भी टूटेगा. वहीं, हाल ही में बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की बहन श्वेता सिंह कीर्ति (Shweta Singh Kirti) भी कंगना रनौत के समर्थन में आ गई हैं. इतना ही नहीं, उन्होंने महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन और एक बार फिर राम राज स्थापित करने की बात की है. श्वेता सिंह कीर्ति के इस पोस्ट पर फैंस भी खूब कमेंट कर रहे हैं.

श्वेता सिंह कीर्ति (Shweta Singh Kirti) ने अपनी पोस्ट में कंगना रनौत (Kangana Ranaut) का समर्थन करते हुए लिखा, “हे भगवान! यह कैसा गुंडा राज है. इस तरह का अन्याय बिल्कुल भी नहीं सहना चाहिए. क्या राष्ट्रपति शाससन इस अन्याय का जवाब हो सकता है? चलो दोबारा राम राज स्थापित करते हैं.” इसके अलावा श्वेता सिंह कीर्ति ने एक और ट्वीट किया, जिसमें उन्होंने बॉलीवुड सितारों पर निशाना साधा. उन्होंने लिखा, “हम अपने ग्रे सेल्स का इस्तेमाल करके यह पता लगा सकते हैं कि जैसे ही ड्रग एंगल सामने आया, इतने समर्थन कहां से आ गए. यह जान लीजिए कि हम मूर्ख नहीं हैं, पूरी सच्चाई के बाहर आने का इंतजार कर रहे हैं और तब हम देखेंगे कि यह समर्थक कहां हैं.”

बता दें कि सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की बहन श्वेता सिंह कीर्ति (Shweta Singh Kirti) सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव हैं. वह सुशांत से जुड़ी चीजें अकसर साझा भी करती हैं. वहीं, कंगना रनौत की बात करें तो 3 वर्षीय एक्ट्रेस ने कहा था कि शिवसेना के साथ हुई बयानबाजी के कारण महाराष्ट्र सरकार उन्हें टार्गेट कर रही है. कंगना रनौत ने अपने मुंबई सफर को लेकर ट्वीट भी किया था, जिसमें उन्होंने लिखा, “जैसे कि मैं मुंबई दर्शन के लिए तैयार हूं. महाराष्ट्र सरकार और उनके गुंडे मेरी प्रॉपर्टी पर हैं और उसे अवैध तरीके से गिराने की कोशिश कर रहे हैं. कर लो! इन सबसे कुछ नहीं होने वाला, बल्कि मेरा हौसला और मजबूत होगा.”

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *