गोपालगंज में देखते-ही-देखते गंडक में समा गयी बड़ी नाव, बांध की मरम्मत के दौरान हुआ हादसा

[ad_1]

PATNA : गोपालगंज (Gopalganj) में सारण बांध की मरम्मत के दौरान उस वक़्त बड़ा हादसा टल गया जब तटबंध की मरम्मत में लगी बड़ी नाव नदी (Boat) की तेज धारा में डूब (Sinking) गयी. हालांकि इस दौरान काम कर रहे मजदूरों की तत्परता से नाव पर सवार दो मजदूरों को सकुशल बाहर निकाल लिया गया. घटना बरौली के देवापुर के मलंग बाबा स्थान सारण बांध की है. नाव हादसे में बाल बाल बचे दोनों मजदूरों ने राहत की सांस ली है. पीड़ित मजदूर जयश्री यादव ने बताया कि वे सभी लोग अन्य साथियों के साथ पुरैना और देवापुर के बीच में मलंग बाबा स्थान के समीप सारण बांध की मरम्मती का कार्य कर रहे थे. काम के दौरान गंडक नदी में पानी का बहाव तेज था. वे सभी लोग बम्बू पाईलिंग यानी बांध की मरम्मत के दौरान बांस से मिटटी को रोकने के लिए बांस को नदी और मिटटी में दबा रहे थे. इस दौरान अचानक नाव में पानी भरने लगा.

हादसे के वक़्त नाव पर दो लोग सवार थे और वे नाव को किनारे पर लगाकर बम्बू पाईलिंग का काम कर ही रहे थे. तभी अचानक नाव में पानी भरते ही वह नदी की गहराई में समा गया. नाव के पानी में बहने से महज कुछ सेकंड पहले ही जयश्री यादव ने दौड़कर बांस के सहारे अपनी जान बचाई. करीब ढाई मिनट के सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो में हादसे की वह तस्वीर देख सकते हैं कि कैसे देखते ही देखते जेनेरेटर सहित बड़ी नाव नदी में समां गयी और दो लोगों ने बांस को पकड़कर अपनी जान बचा ली. अगर थोड़ी सी चुक होती तो दो लोगो की जान जा सकती थी.

बता दे कि गोपालगंज में कुल 11 जगहों पर तटबंध टूटे हैं. जिनकी मरम्मत कार्य की जिम्मेदारी जल संसाधन विभाग की है. जल संसाधन विभाग के द्वारा सभी जगहों पर मरम्मत का कार्य किया जा रहा है. जिसमें पटना की एजेंसी के साथ स्थानीय लोगो से भी कार्य कराया जा रहा है.

[ad_2]

Source link

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *