चाय वाले की बेटी उड़ाएगी फाइटर प्लेन, इंडियन एयर फोर्स में पायलट बन लहराया परचम

मजबूत इरादा और कड़ी मेहनत से चाय वाले की बेटी ऐसे बनी फ्लाइंग ऑफिसर

DESK : कहते हैं यदि आप मन में कुछ करने की चाह तो और कड़ी मेहनत का इरादा हो तो कोई आपको रोक नहीं सकता है. इसे ही सच साबित किया है एक चाय बेचने वाले की बेटी ने. अपनी कड़ी मेहनत की बदौलत उसने अपने मुकाम को पा लिया.

20 जून को हैदराबाद में संयुक्त स्नातक पासिंग आउट परेड का आयोजन किया गया था. जिसमें मध्य प्रदेश की बेटी आंचल गंगवाल को वायु सेना में फ्लाइंग ऑफिसर का कमीशन मिला है. मार्च पास्ट के बाद आंचल गंगवाल को राष्ट्रपति पट्टिका से सम्मानित किया गया. जिसके बाद गर्व से उसके माता पिता का सिर ऊंचा हो गया. उनके आंखों में खुशी के आंसु छलक रहे थे.

आंचल गंगवाल ने बताया कि उसके पिता एक छोटी सी चाय का दुकान चलाते हैं. छोटी सी दुकान चलाते हुए उसके पिता ने उनकी और उनके भाई की सारी जरुरतों को पूरा किया. आंचल ने उत्तराखंड त्रासदी के वक्त वायु सेना का हिस्सा बनने का फैसला किया. आंचल मध्य प्रदेश में पुलिस सब इंस्पेक्टर के पद पर तैनात थीं, इसके बाद उनका चयन श्रम इंस्पेंक्टर के पद पर हुआ. लेकिन उन्हें वायु सेना में जाना था, इसलिए उन्होंने जॉब छोड़ दी और अपने ड्रीम को पूरा करने में जुट गईं. कड़ी मेहनत के बाद आंचल ने अपने ड्रीम जॉब को पा लिया.

शनिवार को पासिंग आउट परेड में अपनी बेटी को मार्च पास्ट करते परिवार ने देखा तो उनकी खुशी का ठिकाना नहीं रहा. आंचल के पिता को इस कार्यक्रम में शिरकत करने हैदराबाद जाना था, लेकिन कोरोना संकट के इस काल में वे नहीं जा सके. इस वजह से परिवार ने इस गौरवमयी पल को ऑनलाइन ही देखा और अपनी बिटिया को खुब आगे बढ़ने का आशिर्वाद दिया.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *