पटना के कुर्जी स्थित मस्जिद में छिपे थे 12 विदेशी नागरिक, सूचना मिलते ही आई पुलिस

Patna: राज्य सरकार ने 31 मार्च तक को’रोना वाय’रस के सं’क्रमण को रोकने के लिए लॉकडाउन का फैसला किया है. ऐसे में पटना के कुर्जी के गेट नंबर 74 के पास स्थित मस्जिद में 12 विदेशी नागरिक छिपे थे. मोहल्ले के लोगों को जब इसकी सूचना मिली तो वे हंगामा करने लगे. लोगों का कहना था कि कोरोना फैला हुआ है और यहां विदेशी लोगों को छिपाकर रखा गया है. हंगामे की सूचना पर पुलिस आई और सभी विदेशी नागरिकों को अपने साथ ले गई.

दरअसल सोमवार को पटना के कई इलाकों में लॉकडाउन बेअसर दिख रहा है. अगमकुआं, कदमकुआं नाला रोड और पटेल नगर में मछली, मांस और पान की दुकानें खुली दिखी. लोग यहां घूमते और गप करते दिखे. मीठनपुर बस स्टैंड पर लोग बस की छत पर सवार होकर सफर करते दिखे. 31 मार्च तक लॉकडाउन के फैसले के बाद बड़ी संख्या में लोग अपने गांव जा रहे हैं. सोमवार को पटना के मीठापुर बस स्टैंड पर लोगों की भीड़ दिखी. बस के अंदर खड़े होने तक की जगह न मिली तो लोग छत पर बैठ गए. लोग जान जोखिम में डालकर सफर कर रहे हैं ताकि अपने गांव लौट सकें. लोगों से मनमाना किराया भी वसूला जा रहा है.

बिहार में अभी तक कोरोना के दो मरीज मिले हैं. पीएमसीएच में 24 घंटे में कोरोना के संदिग्ध 13 नए मरीज भर्ती हुए हैं. इनका सैंपल जांच के लिए भेजा गया है. दूसरे देश से बिहार आए 520 लोगों को सर्विलांस पर रखा गया है. 119 संदिग्ध मरीजों को आइसोलेशन में रखा गया है. पटना एम्स का ओपीडी अनिश्चितकाल के लिए बंद कर दिया गया है. यहां सिर्फ इमरजेंसी मरीजों का ही इलाज किया जा रहा है.

लॉकडाउन के बाद भी रविवार रात को पटना सिटी के एक कम्युनिटी हॉल में शादी समारोह में लोग जुटे थे. पुलिस ने त्वरित कार्रवाई कर लोगों के हटाया और कम्युनिटी हॉल को सील कर दिया. 5-6 लोगों की मौजूदगी में शादी की रस्म पूरी की गई.

फुलवारी में लॉकडाउन का असर नहीं है. दुकान खुली हैं. लोग बाजार में घूम रहे हैं, मसौढ़ी में लॉक डाउन का असर नहीं दिखा. दुकानें खुली, सड़क पर वाहनों का परिचालन भी पूर्व की तरह चालू रहा, बाढ़ में सुबह दुकानें खुली और गाड़ियां भी चलने लगी. बाद में पुलिस ने गाड़ियों को रोका और दुकानों को बंद कराया, फतुहा में लॉकडाउन का कोई असर नहीं दिखा. यहां ऑटो, ट्रक व अन्य गाड़ियां चल रही हैं. दुकानें खुली हैं, बख्तियारपुर में सार्वजनिक वाहन बे रोक-टोक चल रहे हैं. दुकानें भी खुली हैं.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.