बिहार के 6 जिलों में कोरोना का हाई अलर्ट, पटना-बेगूसराय-वैशाली-प. चंपारण-सारण-जमुई में आदेश जारी

कोरोना का कहर:बिहार के 6 जिलों में कोरोना का हाई अलर्ट, पटना, बेगूसराय, वैशाली, पश्चिमी चंपारण, सारण और जमुई सबसे

बिहार के 6 जिले इस समय कोरोना संक्रमण बढ़ा सकते हैं। पटना, बेगूसराय, वैशाली, पश्चिमी चंपारण, सारण और जमुई सबसे अधिक संवेदनशील जिले हैं, जिससे पूरा बिहार तबाह हो सकता है। यहां तेजी से कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं। यह खुलासा स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट से हुआ है, जिसके बाद पूरे प्रदेश में चौकसी बढ़ाई जा रही है। गृह विभाग भी इसी रिपोर्ट के आधार पर सुरक्षा का चक्रव्यूह तैयार करने में लगा है।

कोरोना का खतरनाक रुख
समीक्षा के दौरान कोरोना का खतरनाक रुख सामने आया है। गृह मंत्रालय द्वारा कराई गई समीक्षा में पता चला कि पटना में 10 प्रतिशत से अधिक केस के बढ़ने का दर है। इसके अलावा बेगूसराय, वैशाली, पश्चिमी चम्पराण, सारण और जमुई में भी कोरोना संक्रमण को लेकर संवेदनशील हैं। यहां एक सप्ताह में पॉजिटिव केस बढ़े हैं। समीक्षा के बाद इन जिलों हाई अलर्ट घोषित किया गया है। इसमें पटना को सबसे अधिक संवेदनशील रखा गया है।

पटना सबसे अधिक संवेदनशील
कोरोना को लेकर पटना को सबसे संवेदनशील माना जा रहा है। यहां गुरुवार को 211 नए मामले आए हैं। पटना में अब तक कुल 41331 लोगों को संक्रमण हो चुका है और 320 लोगों की मौत हो चुकी है। गुरुवार तक यहां 1781 केस एक्टिव रहे। बेगूसराय में 7237 लोग अब तक संक्रमित हुए जिसमें 32 की मौत हो गई है। अभी भी 95 एक्टिव मामले हैं। वैशाली में अब तक 5074 लोग संक्रमित हो चुके हैं, जिसमें 41 की मौत हुई है। गुरुवार तक कुल 42 एक्टिव मामले रहे। पश्चिमी चंपारण में 5749 लोग संक्रमित हुए जिसमें 19 की मौत हो गई। गुरुवार तक 94 एक्टिव मामले रहे। सारण में 6492 लोग संक्रमित हुए, जिसमें 48 लोगों की मौत हो गई। गुरुवार तक यहां 140 एक्टिव मामले रहे। वहीं जमुई में 3011 लोग कोरोना संक्रमित हुए, जिसमें 10 लोगों की जान गई। गुरुवार तक कुल 66 एक्टिव मामले पाए गए।

24 घंटे में कोरोना के 698 नए मामले
शुक्रवार को जारी स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक 24 घंटे में कोरोना के 698 नए मामले आए हैं। इसमें पटना में सबसे अधिक 180 नए मामले हैं। इसके बाद औरंगाबाद में 50 और पूर्णिया में 41 नए मामले आए हैं। मधुबनी में 29, मुजफ्फरपुर में 28, सहरसा और सारण में 25, सीतामढ़ी में 22, सुपौल में 21 और वैशाली में 23 मामले आए हैं। इसके अलावा अन्य जिलों में 10 से लेकर 15 तक नए मामले पाए गए हैं।

भारत सरकार के निर्देश पर हुई समीक्षा
भारत सरकार के गृह मंत्रालय ने बिहार में कोरोना के मामलों को लेकर समीक्षा का आदेश दिया था। गृह विभाग के आदेश पर स्वास्थ्य विभाग ने प्रदेश में कोरोना के मामलों की विस्तृत समीक्षा की और रिपोर्ट मंत्रालय को सौंपा था। बताया जा रहा है कि मंत्रालय ने समीक्षा कई स्तर से कराई है जिसमें चौंकाने वाले मामले सामने आए।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *