अभी-अभी : कोरोना के बहाने CM नीतीश ने 4 IAS अधिकारियों पर चलाया ट्रांसफर का डंडा

चार IAS अधिकारियों का ट्रांसफर, तीन को अतिरिक्त प्रभार
राज्य सरकार ने उम्मीद के मुताबिक के चार सीनियर आईएएस अधिकारियों का तबादला कर दिया है। सरकार ने प्रत्यय अमृत को स्वास्थ्य विभाग का नया प्रधान सचिव बनाया है।

सुधीर कुमार बने राज्य योजना परिषद के मुख्य परामर्शी। सुधीर कुमार को जांच आयुक्त का मिला अतिरिक्त प्रभार। आईएएस उदय सिंह कुमावत बनाए गए राज्य योजना परिषद के परामर्शी, बिपार्ड के चार्ज भी संभालेंगे कुमावत।

विकास आयुक्त अरुण कुमार सिंह को बिपार्ड DG का मिला अतिरिक्त प्रभार। वित्त के प्रधान सचिव सिद्धार्थ को उद्योग विभाग का अतिरिक्त प्रभार।नजल संसाधन विभाग के सचिव संजीव हंस को ऊर्जा सचिव का अतिरिक्त प्रभार, पावर होल्डिंग कंपनी के सीएमडी के भी चार्ज में रहेंगे संजीव हंस।

कोरोना से जंग के बीच सरकार ने आखिरकार स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव को बदलने की अधिसूचना जारी कर ही दी. स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव उदय सिंह कुमावत को हटाकर प्रत्यय अमृत को स्वास्थ्य महकमे का नया प्रधान सचिव बना दिया गया है. वहीं उनके जिम्मे लंबे समय से चले आ रहे ऊर्जा विभाग की कमान अब संजीव हंस को दे दी गयी है.सरकार ने दो और आई ए एस अधिकारियों का तबादला किया है.

कोरोना से जंग के बीच फिर बदले गये स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव

बिहार कोरोना से जंग लड़ रहा है और इस बीच सरकार ने फिर से स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव को बदल दिया है. सरकार ने स्वास्थ्य के प्रधान सचिव उदय सिंह कुमावत को हटाकर अपने खास प्रत्यय अमृत को ये जिम्मेवारी दे दी है. प्रत्यय अमृत के पास आपदा प्रबंधन विभाग का भी प्रभार रहेगा. हालांकि उन्हें बिजली से मुक्त कर दिया गया है. काफी लंबे समय से प्रत्यय अमृत ऊर्जा के प्रधान सचिव के साथ साथ बिहार पावर होल्डिंग कंपनी के सीएमडी पद पर काबिज थे.

बिहार सरकार ने आईएएस संजीव हंस को ऊर्जा विभाग का प्रभार सौंपा है. वे पहले से ही जल संसाधन विभाग के सचिव हैं. उन्हें स्वास्थ्य विभाग के सचिव का भी प्रभार दिया गया था. इस प्रभार से उन्हें अब मुक्त कर दिया गया है.

राज्य सरकार ने स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव उदय सिंह कुमावत को किनारे कर दिया है. उन्हें बिहार राज्य योजना पर्षद का परामर्शी बना दिया गया है. कहा जाता है कि ये ऐसा पद है जहां करने को कोई काम ही नहीं है.

राज्य सरकार ने उद्योग विभाग में भी फेरबदल किया है. उद्योग विभाग में प्रधान सचिव की तैनाती की गयी है. बिहार के वित्त विभाग के प्रधान सचिव एस. सिद्धार्थ को उद्योग विभाग के प्रधान सचिव का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है. दरअसल इस विभाग में सचिव के तौर पर नर्मदेश्वर लाल की तैनाती थी. वे ही स्वतंत्र तौर पर काम कर रहे थे. लेकिन नीतीश कुमार उद्योग विभाग के काम से संतुष्ट नहीं थे. लिहाजा अब वहां प्रधान सचिव की भी तैनाती कर दी गयी है.

राज्य सरकार ने केंद्रीय प्रतिनियुक्ति से लौटे मिहिर कुमार सिंह को श्रम संसाधन विभाग का नया प्रधान सचिव नियुक्त किया है. वहीं श्रम विभाग के अपर मुख्य सचिव सुधीर कुमार को किनारे कर दिया गया है. उन्हे बिहार राज्य योजना पर्षद का मुख्य परामर्शी बना दिया गया है. वे सामान्य प्रशासन विभाग के जांच आयुक्त का भी काम देखेंगे.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *