लाकडाउन लगने का डर, बिहार के चंपारण में युवक ने तय डेट से चार महिना पहले खरमास में रचाई शादी

PATNA- ब‍िहार में अनोखा मामला, लाकडाउन का खौफ इतना कि तय तिथि से चार माह पहले ही कर ली शादी, जान‍िए बेत‍िया का पूरा माजरा, पश्चिम चंपारण अजब प्रेम की अजब कहानी सामने आई है। लॉकडाउन के भय से निर्धारित तिथि से पहले परिणय सूत्र में बंधे वर- बधू होने वाली पत्नी को उसके घर से ले भागा युवक दोनों परिवरों की सहमति से कराई गई शादी।

स्वजनों की रजामंदी से शादी तय होने के बाद वर- बधू का प्रेम इस कदर परवान चढ़ा कि दोनों चार माह तक इंतजार नहीं करने का फैसला ले लिए और बधू को उसके घर से वर लेकर भाग आया। यह घटना बैरिया की है। बाद में दोनों परिवारों की सहमति से सोमवार को मुखिया के दरवाजे पर शादी करा दी गई। दरअसल, हुृआ यह कि बैरिया के बीरा मुखिया के पुत्र विकास कुमार व पूर्वी चंपारण जिले के रामगढ़वा थाना क्षेत्र के अधकपरिया गांव निवासी विश्वनाथ मुखिया की पुत्री पूजा कुमारी की शादी दोनों परिवारों की सहमति से तय हुई थी।

शादी की तिथि मई माह में मुकर्रर थी। इस बीच, शादी तय होने के बाद लड़का- लड़की दोनों आपस में मोबाइल पर बात करने लगे। दोनों का प्यार इस कदर परवान चढ़ा की, मई तक इंतजार करना उनके लिए मुश्किल हो गया। वर विकास कुमार ने बताया कि इसबीच कोरोना की रफ्तार बढऩे लगी। लगा कि लॉकडाउन भी लग जाएगा, तो इस वर्ष शादी नहीं हो पाएगी। इस वजह से दोनों ने निर्णय लिया कि भागकर शादी कर लेंगे। बीते आठ जून की रात में विकास लड़की के घर पहुंच गया और उसे लेकर अपने घर आ गया।

उधर,लड़की के स्वजन पूजा को घर में नहीं पाकर बेचैन हो गए। खोजबीन की तो पता चला कि वह भागकर बैरिया आ गई। पहले से परिचित तंलगही पंचायत की मुखिया साजदा बेगम के पति रेयाज अहमद के घर लड़की के स्वजन पहुंचे। समाजसेवी रेयाज अहमद के प्रयास से दोनों परिवारों को समझा बूझाकर सोमवार को शादी करा दी गई।

डेली बिहार न्यूज फेसबुक ग्रुप को ज्वाइन करने के लिए लिंक पर क्लिक करें….DAILY BIHAR  आप हमे फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और Whattsup, YOUTUBE पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं 

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.