दिल्ली दंगों में देशद्रोह का आरोप झेल रहे शरजील इमाम कोरोना संक्रमित

दिल्ली दंगों देशद्रोह के आरोपी सरजील इमाम कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. सूत्रों के हवाले से खबर आ रही है कि सरजील इमाम को पुलिस की स्पेशल सेल असम की जेल से दिल्ली ला रही थी. आज उनको पहुंचना था. लेकिन उसके कोविड पॉजिटिव होने से रुकना पड़ेगा. हालांकि उसके कोविड पॉजिटिव होने की बारे में अधिकारी कुछ नहीं बोल रहे हैं.

इससे पहले बताया जा रहा था कि दिल्ली दंगों (Delhi Riots) के मुख्य आरोपी जवाहर लाल युनिवर्सिटी के छात्र सरजील इमाम को असम से दिल्ली लाया जाएगा. दिल्ली पुलिस (Delhi Police) की स्पेशल सेल शरजील इमाम को प्रोडक्शन वारंट पर असम के लिए रवाना हो चुकी है. स्पेशल सेल उसे दंगों में फंडिंग साज़िश के आरोप में पूछताछ के लिए प्रोडक्शन प्रॉडक्शन वारंट पर दिल्ली लेकर आएगी।

फिर स्पेशल सेल UAPA के तहत गिरफ्तार करेगी. फिलहाल शरजील इमाम (sharjeel imam) असम की जेल में बंद है. इसका दिल्ली में दंगे करवाने का अहम रोल है.

इससे पहले दिल्ली पुलिस ने 28 फरवरी को बिहार से शरजील इमाम को गिरफ्तार किया था. जब शरजील इमाम ने 16 जनवरी को CAA NRC के खिलाफ अलीगढ़ में भड़काऊ भाषण देते हुए नॉर्थ-ईस्ट को भारत से अलग करने वाली बात कही थी. जिसके बाद देश के कई राज्यों में शरजील इमाम पर मुकदमा दर्ज हुआ था. दिल्ली पुलिस ने बिहार से गिरफ्तार किया था फिर असम पुलिस उसे अपने यहां दर्ज देशद्रोह के मामले में दिल्ली से लेकर गई थी. तभी से ही शरजील असम की जेल में है.

गौरतलब है कि शरजील इमाम पर आरोप है कि वह पिछले साल दिसंबर में जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय के पास नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) के खिलाफ हिंसक विरोध प्रदर्शन शामिल था. इमाम शाहीन बाग में विरोध प्रदर्शन आयोजित करने में भी कथित तौर पर शामिल था, लेकिन वह उस वीडियो के सामने आने के बाद सुर्खियों में आया, जिसमें उसने अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में एक सभा से पहले कथित विवादास्पद टिप्पणी की, जिसके बाद उसपर राजद्रोह का मामला दर्ज किया गया. उसके खिलाफ असम, मणिपुर अरुणाचल प्रदेश में अलग-अलग मामले भी दर्ज हैं.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *