अग्निपथ मतलब निजीकरण, सारा खेल CISF , RPF , SRPF जैसी PARA मिलिट्री को खत्म करने का है

खेल सेना को lean and thin बनाने का नही है , वो तो डिफॉल्ट effect है |सारा खेल CISF , RPF , SRPF जैसी PARA मिलिट्री को खत्म करने का है | जब सब प्राइवेट हो जाएगा तो CISF , RPF , जैसे अमले को ढोने का क्या फायदा |

जब एयरपोर्ट , रेलवे स्टेशन , नवरत्न की UNITS , खदानें , तमाम और फैक्ट्रीज जो प्राइवेट हो जाएंगी तब उनकी सुरक्षा कैसे होगी | वहां भी तो TRAINED STAFF चाहिए | तो यह भविष्य की योजना है कि TAXPAYER के पैसे से ट्रेनिंग करा के प्राइवेट उद्यमों की बड़ी सुरक्षा सेना का निर्माण कुछ वर्षों में करो | क्रोनी भाइयों की सेना की ट्रेनिंग में अरबों रुपये का खर्चा जनता की जेब से भर दिया जाएगा |

बाकी एक बुनियादी तौर पर सामंती अलोकतांत्रिक रूढ़िवादी अंधविश्वासी पिछड़ी चेतना से लैस समाज मे मिल्ट्री TRAINED नौजवान चलता फिरता अग्निकन्दुक होगा जिसे निहित स्वार्थी तत्व कैसे खेल सकते है यह जानना कोई रॉकेट साइंस नहीँ है | 99.99 % अग्निवीर रिटायर होने के बाद सबसे पहले जो पैसा मिलेगा उससे एक रिवाल्वर और एक राइफल खरीदने में खर्च कर देंगे | यह उनका शौक नही बल्कि मजबूरी होगी क्योंकि उसके बाद सिर्फ गार्ड की 8 – 15 हजारी नौकरी ही मिल सकती है | दूसरी और कोई स्किल उनके पास नही होगी |

Capf में रिजर्वेशन वगैरह सब हवाई गोला है | जब नौकरी ही लिमिटेड है तो एक का रिज़र्वेशन दूसरे की हकमारी | क्या बाकी जो CAPF के लिये तैयारी करते है उनको जरूरत नही है नौकरी की |

Economy तो पानी का पैकेट है | एक तरफ दबाओगे तो दूसरी तरफ फूल जाएगा | ज्यादा दबाओगे तो PACKET फट जाएगा |

मेरी बुद्धि तो यही कहती है आगे राम जी जाने …

Anil sharma

डेली बिहार न्यूज फेसबुक ग्रुप को ज्वाइन करने के लिए लिंक पर क्लिक करें….DAILY BIHAR  आप हमे फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और WhattsupYOUTUBE पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.