जम्मू-कश्मीर में हाईअलर्ट पर वायुसेना और आर्मी, फ्लाइंग ऑपरेशन जारी

पटना : पिछले हफ्ते पाकिस्तान की ओर लगातार सीज फायर का उल्लंघन और भारतीय सेना के साथ गोलीबारी की घटना के बाद अब जम्मू-कश्मीर में हालात और नाजुक हो गए हैं। इसलिए भारतीय वायुसेना और आर्मी को जम्मू-कश्मीर में हाईअलर्ट पर रखा गया है। खुद सेना प्रमुख विपिन रावत श्रीनगर पहुंचे हैं। यहां सेना प्रमुख ने सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा की। इसके अलावा उन्होंने घाटी में अतिरिक्त सुरक्षाबलों की तैनाती के निर्देश दिए हैं। इतना ही नहीं भारतीय वायुसेना द्वारा घाटी में फ्लाइंग ऑपरेशन अब भी जारी है। बता दें कि इससे पहले पिछले सप्ताह जम्मू-कश्मीर में 10 हजार अतिरिक्त जवानों की तैनाती की गई थी और सभी अलर्ट पर रखा गया था। माना जा रहा है कि पाकिस्तानी सीज फायर के उल्लंघन के अलावा जम्मू-कश्मीर में आतंकवादियों को कमजोर करने की दिशा में भी यह पहल है।

दरगाहों, मस्जिदों व अदालतों में घटाए गए सुरक्षाकर्मी: बता दें कि सेना प्रमुख के आदेश पर जम्मू-कश्मीर के कई दरगाहों, मस्जिदों और अदालतों से सुरक्षाबालों की संख्या कम कर दी गई है। सभी जवानों को पुलिस लाइन में रिपोर्ट करने को कहा गया है। इसके साथ ही अमरनाथ यात्रा की सुरक्षा में तैनात जवानों में काफी जवानों को वहां से हटा दिया गया है और अमरनाथ यात्रा को चार अगस्त तक स्थगित किया गया है। सेना की बढ़ती संख्या और एयरफोर्स की फ्लाइंग ऑपरेशन के बाद राजनीतिक बयानबाजी का दौर शुरू हो गया है। नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला ने ट्वीट कर पूछा है कि-कश्मीर में चल रहे हालातों के लिए सेना और वायुसेना को अलर्ट पर रखने की क्या वजह हो सकती है। अगर, सचमुच ऐसा कोई अलर्ट जारी किया गया है तो कुछ बड़ा होने वाला है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *