जून 2020 तक बंद हो जाएगी एयर इंडिया, खरीदने के लिए कोई नहीं हो रहा तैयार

वित्तीय संकट में फंसी सरकारी विमानन कंपनी एअर इंडिया (Air India) को अगर खरीदार नहीं मिला तो अगले साल जून तक उसका परिचालन बंद करने के लिए मजूबर होना पड़ सकता है. एअर इंडिया के एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह बात कही। उन्होंने कहा कि टुकड़ों-टुकड़ों में पूंजी की व्यवस्था से लंबे समय तक गाड़ी नहीं चलाई जा सकती है।

कंपनी पर करीब 60 हजार करोड़ रुपये का कर्ज है और सरकार अभी भी विनिवेश के तौर-तरीकों पर काम कर रही है। खतरे की घंटी बजाते हुए अधिकारी ने कहा कि यदि जून तक खरीददार नहीं मिला तो एयर इंडिया का हाल भी जेट एयरवेज जैसा हो सकता है। अधिकारी ने नाम गोपनीय रखने की शर्त पर कहा कि निजीकरण की योजनाओं के बीच सरकार ने कर्ज तले दबी कंपनी में और पूंजी निवेश करने से इनकार कर दिया है। इसकी वजह से एयरलाइन को ‘किसी तरह’ टुकड़ों में पूंजी की व्यवस्था करके काम चलाना पड़ रहा है। इसके लंबे समय तक चलने की संभावना नहीं है। सरकार कर्ज में फंसी कंपनी में और अधिक पैसे लगाने से इनकार कर चुकी है।

dailybihar।com, dailybiharlive, dailybihar.com, national news, india news, news in hindi, latest news in hindi, बिहार समाचार, bihar news, bihar news in hindi, bihar news hindi, AIR INDIA

सरकार के मुताबिक, वित्त वर्ष 2011-12 से इस साल दिसंबर तक सरकार कुल 30,520.21 करोड़ रुपये इसमें लगा चुकी है। यूपीए सरकार ने 2012 में 10 साल के लिए 30 हजार करोड़ रुपये की मदद की घोषणा की थी। अधिकारी ने कहा कि हमने संचालन आवश्यकताओं के लिए सरकार से 2,400 रुपये की मांग की थी, लेकिन सरकार ने केवल 500 करोड़ रुपये पर हामी भरी है।

अधिकारी ने कहा, ‘हम इस समय किसी तरह से परिचालन कर पा रहे हैं और बहुत अच्छी सूरत में हम जून तक इस स्थिति को बनाये रख सकते हैं। यदि इस समय तक कोई खरीदार नहीं मिला तो हमें दुकान बंद करनी पड़ेगी। ” उन्होंने कहा कि हमने परिचालन जरूरतों को पूरा करने के लिए सरकार से 2,400 करोड़ रुपये की सरकारी गारंटी मांगी थी , लेकिन सरकार ने सिर्फ 500 करोड़ रुपये के लिए सरकारी गारंटी दी।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *