औरंगाबाद बनेगा बिजली का हब, नवीनगर में बिजली उत्पादन इसी माह से

औरंगाबाद के नवीनगर में नए बिजली घर से विधिवत बिजली उत्पादन इसी माह शुरू होगा। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, केंद्रीय ऊर्जा राज्यमंत्री आरके सिंह, बिहार के ऊर्जा मंत्री बिजेन्द्र प्रसाद यादव अगस्त के अंतिम सप्ताह में इस बिजली घर की औपचारिक शुरुआत कर सकते हैं। यूनिट शुरू होने की संभावित तिथि अभी 25 अगस्त बताई जा रही है।

नवीनगर स्टेज एक में 660 मेगावाट की तीन इकाई है। पहली यूनिट से जून में ही उत्पादन शुरू हुआ। हाल ही में इस यूनिट ने 72 घंटे चलाने में कामयाबी हासिल की है। इस लक्ष्य को प्राप्त करते ही एनटीपीसी को नवीनगर से बिजली उत्पादन कर बेचने की मंजूरी मिल गई है। यूनिट का विधिवत उद्घाटन करने के लिए एनटीपीसी ने सीएम नीतीश कुमार और केंद्रीय ऊर्जा राज्यमंत्री आरके सिंह से समय मांगा है। एनटीपीसी ने अभी 25 अगस्त को उद्घाटन की तिथि तय की है। वैसे नेताओं के समय मिलने के अनुसार इस तिथि में हेरफेर भी की जा सकती है। उल्लेखनीय है कि नवीनगर में 660 मेगावाट की तीन इकाई का निर्माण राज्य सरकार और एनटीपीसी मिलकर कर रही थी।

17 अप्रैल 2018 को इस यूनिट को बिहार सरकार ने एनटीपीसी के हवाले कर दिया। जून 2017 में ही नवीनगर बिजली घर की पहली यूनिट शुरू होनी थी। दो साल बाद पहली यूनिट शुरू हो रही है। अगले एक साल में बाकी दो यूनिटों के शुरू करने का लक्ष्य है। तीनों यूनिट से 85 फीसदी यानी 1683 मेगावाट बिजली बिहार को मिलेगी। अभी इतनी बिजली रोज बिहार बाजार से खरीदता है। नवीनगर की तीनों इकाई चालू होने पर बिहार को बाजार से खरीदने की जरूरत कम होगी।

औरंगाबाद बिजली मामल में पावर हब बनेगा। आने वाले वर्षों में औरंगाबाद में 5000 हजार मेगावाट से अधिक बिजली उत्पादित होगी। यहां रेलवे की 1000 मेगावाट की इकाई है। नवीनगर में स्टेज एक में 660 मेगावाट की तीन इकाई 1980 मेगावाट पर काम शुरू है, जबकि नवीनगर में ही स्टेज दो में 800 मेगावाट

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *