500 साल बाद अयोध्या में रामलला को मिला बेड, अब भरत संग मखमली रजाई ओढ़ेंगे, माखन की जगह तिल का भाेग

अयाेध्या: रामलला को 500 साल बाद मिला बेड, अब भरत संग मखमली रजाई ओढ़ रहे, माखन की जगह तिल का भाेग : 5 अगस्त 2020 को भूमिपूजन के बाद से रामलला काे चांदी के सिंहासन व सोने के मुकुट के बाद अब ठंड में उनके शयन के लिए नए बेड के साथ गद्दा-रजाई भी लगाई गई है। रामलला को यह बेड पांच सौ साल बाद मिला है। मुख्य पुजारी आचार्य सत्येंद्र दास ने बताया कि अभी तक रामलला को उनके स्थान पर ही सिंहासन हटाकर रात में गद्दा बिछाकर शयन कराया जाता था।

अब उनके साथ उनके बेड पर भरत व दूसरे बेड पर लक्ष्मण व शत्रुघ्न को शयन कराया जा रहा है। उन्हें गुनगुने जल से स्नान कराया जा रहा है। गर्म कपड़ाें के साथ उनके विग्रह के सामने अंगीठी व हीटर भी जलाई जा रही है। भोग में माखन की जगह तिल का भोग लगाया जा रहा है।

डेली बिहार न्यूज फेसबुक ग्रुप को ज्वाइन करने के लिए लिंक पर क्लिक करें….DAILY BIHAR  आप हमे फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और WHATTSUP, YOUTUBE पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं 

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.