बिहार में अब नहीं होगी बालू-गिट्टी की कालाबजारी, स्टॉकिस्ट लाइसेंस के लिए अब होगा ऑनलाइन आवेदन

खान एवं भूतत्व मंत्री जीवेश कुमार ने बुधवार को विकास भवन में विभाग द्वारा निर्गत किए जाने वाले स्टॉकिस्ट लाइसेंस (के लाइसेंस) की ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया का शुभारंभ किया। उन्होंने बताया कि विभाग की वेबसाइट पर दिए गए लिंक पर ऑनलाइन आवेदन किया जा सकेगा। रिन्यूअल के लिए दो हजार और नए आवेदन के लिए 10 हजार शुल्क जमा करके उसकी रसीद अपलोड करनी होगी। सात दिन के अंदर आवेदन की जांच करके मुख्यालय से उप निदेशक स्तर के अधिकारी द्वारा लाइसेंस जारी किया जाएगा। यह प्रक्रिया बालू के स्टॉकिस्ट लाइसेंस के साथ-साथ पत्थर के लिए भी रहेगी।

अभी हैं 590 स्टॉकिस्ट लाइसेंस
राज्य में विभाग के स्टाकिस्ट लाइसेंस धारकों की मौजूदा संख्या 590 है। अब इन लाइसेंस के रिन्यूअल होने हैं। रिन्यूअल के लिए ऑनलाइन ही आवेदन किया जा सकेगा। विभाग के दफ्तर में किसी को चक्कर नहीं काटने होंगे। विभाग की प्रधान सचिव हरजौत कौर ने कहा कि लाइसेंस की ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया शुरू होने से पारदर्शिता बढ़ेगी।

मंत्री ने किया ऑनलाइन प्रक्रिया का उद्घाटन
मंत्री जिवेश कुमार ने कहा कि विभाग के छोटे अधिकारियों की संलिप्तता से स्टॉकिस्ट लाइसेंस पाने में गड़बड़ी होती थी। लोगों की शिकायत पर नयी व्यवस्था लागू की गयी है। वहीं, प्रधान सचिव हरजोत कौर बम्हरा ने कहा कि मंत्री जिवेश कुमार के निर्देश पर पारदर्शिता के लिए नयी व्यवस्था लागू की गयी है। यह प्रक्रिया शुरू होने के बाद बालू-पत्थर के स्टॉकिस्ट का नया लाइसेंस (अनुज्ञप्ति) और ईंट-भट्ठों का नया परमिट पाने, पुराने लाइसेंस या परिमट का नवीनीकरण के लिए लोगों को विभागीय कार्यालय का चक्कर नहीं लगाना होगा।

इससे संबंधित जानकारी वेबसाइट से प्राप्त की जा सकेगी। नयी व्यवस्था के अनुसार विभागीय वेबसाइट पर बालू, पत्थर, ईंट-भट्ठा के लाइसेंस के लिए अलग-अलग फॉर्म रहेगा। उस फॉर्म को भरने के बाद संबंधित कागजात और शुल्क के साथ विभाग की वेबसाइट पर ही अपलोड किया जा सकेगा। इस तरह आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन होगी। वहीं, संबंधित अधिकारी भी इस आवेदन फॉर्म की जांच के बाद ऑनलाइन रिपोर्ट अपलोड कर देंगे। इस तरह लाइसेंस सहित अन्य कागजात लोगों को उनके इ-मेल पर मिल सकेंगे।

सभी का दिसंबर में खत्म हो गया है लाइसेंस
राज्य में बालू-पत्थर के करीब 590 स्टॉकिस्ट थे। इन सभी के लाइसेंस की समयसीमा 31 दिसंबर, 2020 काे खत्म हो चुकी है। ऐसे में पुराने आवेदनों को भी वेबसाइट पर अपलोड कर दिया जायेगा। बालू-पत्थर के स्टॉकिस्ट का नया लाइसेंस पाने के लिए शुल्क के तौर पर 10 हजार रुपये और नवीनीकरण के लिए दो हजार रुपये देने पड़ते हैं। इन्हें ऑनलाइन जमा किया जा सकेगा।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *