बरौनी का यूरिया कारखाना बनकर हुआ तैयार, अगस्त से शुरू होगा उत्पादन, लागत 8388 करोड़

बरौनी के यूरिया कारखाना में अगस्त से उत्पादन संभावितबिहार में नहीं लगेगा नैनो यूरिया का कारखाना : राज्यसभा सांसद सुशील मोदी के एक प्रश्न के उत्तर में रसायन एवं उर्वरक राज्य मंत्री से भगवंत खूबा ने बताया कि बिहार के बरौनी में स्थापित हो रहे यूरिया खाद कारखाने की कुल लागत 8388 करोड़ है जिसमें से 75% व्यय हो चुका है और अगस्त 2022 तक कारखाना प्रारंभ होने की संभावना है। एक अन्य प्रश्न के उत्तर में बताया कि पूरे देश में नैनो यूरिया के 6 राज्यों में 8 स्थानों पर फैक्ट्री स्थापित किए जा रहे हैं जहां 48 करोड़ बोतल (500 मिलीलीटर) प्रतिवर्ष उत्पादन होगा। बिहार के बारे में पूछे जाने पर बताया कि वर्तमान में बिहार में नैनो यूरिया प्लांट लगाने का कोई प्रस्ताव नहीं है।

एक प्रश्न के उत्तर में वित्त राज्य मंत्री भगवत कराड ने बताया कि बिहार में प्रधानमंत्री जनधन योजना अंतर्गत कुल 5 करोड़ 18 लाख खाते खोले गए हैं जिसमें 18 हजार करोड़ रुपए जमा है। पूर्वी चंपारण, पटना, मुजफ्फरपुर, समस्तीपुर, सारण में से प्रत्येक जिले में 22 लाख से ज्यादा खाते खोले गए हैं। पूर्वी चंपारण में सर्वाधिक 24 लाख 44 हजार तथा शेखपुरा जिले में सबसे कम 2 लाख 99 हजार खाते खुले। पटना जिले में सर्वाधिक 982 करोड़ रुपया जमा हैं। वहीं गया जिला 911 करोड़, मुजफ्फरपुर 817.79 करोड़, सारण में 863 करोड़ एवं पूर्वी चंपारण में 697.05 जमा है।

डेली बिहार न्यूज फेसबुक ग्रुप को ज्वाइन करने के लिए लिंक पर क्लिक करें….DAILY BIHAR  आप हमे फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और WhattsupYOUTUBE पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.