बिहारी माटी का कमाल, सहोदर भाई-बहन ने लहराया परचम, पहली बार में दारोगा बन नाम किया रोशन

छपरा शहर के गुदरी निवासी अल्पसंख्यक समुदाय के दो मेधावी भाई बहनो ने पहली बार में ही दरोगा की परीक्षा में सफलता हासिल कर अपने खानदान सहित जिला का
नाम रोशन किया है। मोहम्मद हारून रशीद एवं रूही
फातमा दोनों भाई बहन शुरू से ही मेधावी छात्र रहे हैं,
साधारण परिवार में जन्मे दोनों छात्र की इच्छा है कि अपने
दायित्वों का निर्वहन करते हुए बीपीएससी एवं यूपीएससी
की तैयारी कर सफलता हासिल करें।

शहर के गुदरी निवासी दोनों भाई बहन सफलता का श्रेय
अपने माता-पिता एवं आदर्श शिक्षण संस्थानो को माना
है। पहली बारमे दरोगा परीक्षा में सफलता प्राप्त मोहम्मद
हारून रशीद का कहना है कि सच्ची लगन व दृढ़ संकल्प
हो तो सफल होने से कोई रोक नहीं सकता है। हारून
रशीद ने अल्पसंख्यक कल्याण विभाग द्वारा हज भवन मे
संचालित कोचिंग का सहारा लेकर प्रतिदिन 4 से 5 घंटा
तैयारी करता था।

इन्होंने मेधावी छात्रों से अपील किया कि गहन अध्ययन व
निरंतर प्रयास करने से निश्चय ही सफलता प्राप्त की जा
सकती है। आगे भी अपने दायित्व को निर्वहन करते हुए
बिहार प्रशासनिक सेवा में सफलता के लिए निरंतर मेरा
प्रयास जारी रहेगा। जबकि दरोगा परीक्षा में न्ण्न्ग््जु

फातिमा का मानना है कि मेरा लक्ष्य यूनियन सर्विस कमीशन मे सफलता हासिल करना है।

डेली बिहार न्यूज फेसबुक ग्रुप को ज्वाइन करने के लिए लिंक पर क्लिक करें….DAILY BIHAR

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *