भारत सरकार ने दी नसीहत, चीन में बने कारों को भारत में बेचने से किया मना, पढ़ें पूरी ख़बर

सीमा पर जारी तनाव के चलते की भारत और चाइना के व्यापारिक रिश्तों पर भी खट्टास आ रहा है। विश्व की सबसे बड़ी इलेक्ट्रिक कार निर्माता कंपनी टेस्ला को चायना में निर्मित कारों को भारत में बेचने पर भारत सरकार ने कड़ा ऐतराज जताया है। भारत सरकार ने सख्त टिप्पणी करते हुए अपना विरोध जताया है जिससे टेस्ला कंपनी के मेड इन चाइना’ प्लान पर पानी फिर गया है।

‌मिडिया कंपनी इंडिया टुडे द्वारा चल रहे इंडिया टुडे कॉन्क्लेव 2021 में भारत सरकार के मंत्री नितिन गडकरी अपनी बातों को रख रहे थे। तभी पूछे गए सवाल में उन्होंने कहा टेस्ला को नसीहत देते हुए कहा कि कंपनी भारत में ही कार बनाकर बेचे और एक्सपोर्ट करें। चाइना में बने कार भारत में बिक्री नहीं करें। हालांकि कंपनी ने भी संकेत दिए हैं बहुत जल्द टेस्ला भारत में प्लांट की शुरूआत करेगी। यहीं से कार निर्मित कर एक्सपोर्ट भी करेगी।

कंपनी के मालिक एलन मास्क ने कहा है आने वाले समय में कंपनी भारत में इलेक्ट्रिक कार पेश करेगी। जिसके संकेत कैबिनेट मिनिस्टर नितिन गडकरी ने भी दिए हैं। उन्होंने कहा कि इंडियन बाजार में टेस्ला की इलेक्ट्रिक कार लांच को लेकर भारत सरकार और कम्पनी के बीच बातचीत का दौर जारी है। नितिन गडकरी ने कहा, टेस्ला भारत में कार का प्रोडक्शन कर के एक्सपोर्ट करती है तो भारत सरकार हर संभव मदद करेगी।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *