मकर संक्रांति से पहले तेजप्रताप का बड़ा बयान, कहा—विकास करने के लिए नीतीश से हाथ मिलाना होगा

PATNA-तेज प्रताप ने कहा- बिहार को आगे बढ़ाना है तो JDU को मिलाना होगा– राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे और विधायक तेज प्रताप यादव के एक बयान ने एक बार फिर से बिहार की सियासत में भूचाल ला दिया है। तेज प्रताप यादव ने कहा है कि बिहार को आगे बढ़ाना है तो जेडीयू को साथ लाना होगा। मंगलवार को एक न्यूज चैनल के साथ बातचीत के दौरान तेज प्रताप ने ये बातें कहीं।

जेडीयू को साथ लाने पर तेजस्वी यादव के ‘आउटगोइंग-इनकमिंग’ वाले बयान पर तेज प्रताप ने कहा कि सबको साथ लेकर चलना चाहिए। इसके अलावा तेज प्रताप ने कहा कि अगर राजद और जेडीयू एकसाथ आती है तो भी तेजस्वी यादव ही बिहार के मुख्यमंत्री होंगे। तेज प्रताप ने सीएम नीतीश कुमार को लेकर कहा कि अब चाचाजी बूढ़े हो गए हैं। साथ ही तेज प्रताप ने कहा कि खरमास के बाद बिहार में जबरदस्त खेला होगा और बीजेपी व आरएसएस की आंखें फटी रह जाएगी।

File Photo

गौरतलब है कि कुछ दिन पहले राजद के प्रदेश अध्‍यक्ष जगदानंद सिंह ने जेडीयू को खुला आफर दिया कि वे जाति आधारित जनगणना के मसले पर बेफिक्र होकर आगे बढ़ें, राजद उनका साथ देगा। कयास लगने लगे कि भाजपा और जदयू का गठबंधन टूटकर क्‍या राजद और जदयू के बीच फिर से तालमेल होगा। जगदानंद सिंह द्वारा जातिगत जनगणना के मुद्दे पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को आमंत्रित करने के अगले दिन तेजस्वी यादव ने भी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर जदयू के नेता सिर्फ नौटंकी कर रहे हैं। राज्य सरकार टालमटोल की नीति अपना रही है। सर्वदलीय बैठक के बहाने मुद्दे को उलझाया जा रहा है। तेजस्वी ने नीतीश कुमार के साथ सरकार बनाने की बात से भी इन्कार किया और कहा कि पता न कहां से यह बात आ रही है। मैंने कई बार कहा है कि ऐसा सवाल ही बेमानी है।

डेली बिहार न्यूज फेसबुक ग्रुप को ज्वाइन करने के लिए लिंक पर क्लिक करें….DAILY BIHAR  आप हमे फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और Whattsup, YOUTUBE पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं 

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *