बिहार में गीतकार जावेद अख्तर पर दर्ज हुआ FIR, दिल्ली हिं’सा को लेकर दिया था विवादित बयान

दिल्ली हिं’सा को लेकर गीतकार जावेद अख्तर पर दर्ज हुआ FIR, दिया था विवादित बयान

बिहार के बेगूसराय में मशहूर गीतकार और पूर्व राज्यसभा सांसद जावेद अख्तर पर व्यवहार न्यायालय के सीजीएम के यहां परिवाद पत्र दायर किया गया है. जिसकी अगली सुनवाई 25 मार्च को रखी गई है.

बता दें कि बेगूसराय व्यवहार न्यायालय में अधिवक्ता अमित कुमार सीजीएम कोर्ट में परिवाद पत्र दायर कर कहा है कि दिल्ली हिं/सा के बाद ताहिर के घर को पुलिस द्वारा सील करने पर जावेद अख्तर ने टिप्पणी की थी.

जावेद अख्तर ने अपने ट्वीट में कहा है कि ‘दिल्ली में कई लोग मा/रे गए, घर फूं/के गए, दुकानें लू/टी गई। लेकिन पुलिस सिर्फ एक घर को सील कर मालिक को ढूंढ रही है। संयोग से उसका नाम ताहिर है, दिल्ली पुलिस को सलाम। दिल्ली में हुई हिं/सा को लेकर जावेद अख्तर का बयान पढ़ने से स्पष्ट होता है कि वह हिन्दुस्तान को जा/ति-सं/प्रदाय के नाम पर बांटने का काम कर रहे हैं

जावेद अख्तर पर समाजिक सौहार्द बिगाड़ने तथा रा/ष्ट्रद्रोह को लेकर धारा 124-ए, 153-ए एवं 153-बी में आरोपित किया गया है।

इसी को लेकर अधिवक्ता अमित कुमार ने कहा कि जब देश में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप आए थे, उस समय दिल्ली में हिं/सा कराई गई. जिसमें 40 से ज्यादा लोगों की मौ/त हो गईं, लेकिन जावेद अख्तर ने ताहिर के घर को सील करने पर सवाल उठाते हुए टिप्पणी की थी. जो विभिन्न अखबारों और मीडिया में बात आई थी.

अमित कुमार ने कहा कि जावेद अख्तर की यह टिप्पणी अ/पराध को धर्म से जोड़ने का काम किया, जो आ/पत्तिजनक है. इसी को लेकर सीजीएम के यहां परिवाद पत्र दायर किया गया है.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *