बिहार के बेगूसराय में जंगलराज, व्यापारी बोला— नीतीशजी 70 लाख टैक्स देता हूं रोज मिल रही ध’मकी

PATNA- ’70 लाख टैक्स देता हूं नीतीश जी.. रोज मिल रही धमकी, क्या छोड़ दूं बिहार?’- बिहार में कानून का राज है. सरकार ना तो किसी को बचाती है ना ही फंसाती है. कुछ इसी तरह का बयान सत्ताधारी पार्टी के नेता देते हैं. लेकिन हकीकत कुछ और है. ये हम नहीं कह रहे हैं. वायरल वीडियो तो यही बयां कर रहा है. दरअसल, सोशल मीडिया पर एक स्वर्ण व्यवसायी ( Begusarai Gold Businessman ) का वीडियो वायरल हो रहा है. व्यवसायी पुलिस-प्रशासन की रवैये से इतना नाराज है कि वह बिहार छोड़ देने की धमकी दे रहा है.

जानकारी के अनुसार, बिहार के बेगूसराय जिले के नगर थाना इलाके के पटेल चौक पर प्रमोद कुमार पोद्दार का गहने का दुकान है. दुकान का नाम है पीपी ज्वेलर्स है. कुछ दिन पहले वे सोशल मीडिया पर लाइव आए थे. उन्होंने कहा कि एक जनवरी को उनसे 15 लाख रुपये की रंगदारी मांगी गई थी. इसके बाद उन्होंने थाने में शिकायत की. इसके बावजूद पुलिस-प्रशासन द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की गई.

प्रमोद कुमार पोद्दार ने सोशल मीडिया के माध्यम से दर्द बयां करते हुए कहा कि पुलिस शराब में व्यस्त है और जनता त्रस्त है. हर दिन रंगदारी के लिए धमकी दी जा रही है लेकिन पुलिस कार्रवाई के नाम पर खानापूर्ती कर रही है. इस बाबत उन्होंने सीएम नीतीश कुमार समते मुख्य सचिव को मेल किया, लेकिन नतीजा सीफर रहा. पोद्दार ने कहा कि अगर ऐसी ही स्थिति रही तो 2 दिन के अंदर बिहार छोड़ देंगे. व्यवसायी ने कहा कि हर साल सरकार को 70 लाख रुपये टैक्स देते हैं, इसके बावजूद उन्हें सुरक्षा नहीं दी जा रही है.

जानकारी के अनुसार, एक जनवरी 2022 को उक्त व्यवसायी से मोबाइल फोन के मैसेज कॉल और चैट के जरिए 15 लाख रंगदारी की मांग की जा रही है. बताया जा रहा है कि दो दिन में रुपये नहीं पहुंचाने पर जान से मारने की धमकी दी गई है. व्यवसायी द्वारा रुपया नहीं देने पर चैट के जरिए गालीगलौज और अंजाम भुगतने की धमकी भी दी जा रही है. बताया जाता है कि इस संबंध में बीते एक जनवरी को ही व्यवसायी ने नगर थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई थी. यही नहीं, प्राथमिकी के साथ मोबाइल चैट की कॉपी और मोबाइल नंबर भी दिया गया है.

डेली बिहार न्यूज फेसबुक ग्रुप को ज्वाइन करने के लिए लिंक पर क्लिक करें….DAILY BIHAR  आप हमे फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और Whattsup, YOUTUBE पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं 

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *