बिहार की बिटिया बनी पायलट, इंडिगो विमान उड़ा रही है बेगूसराय की लाड़ली कोकब

बेगूसराय जिले के कठरिया गांव की कोकब रिजवान इंडिगो कंपनी में कॉमर्शियल पायलट बनकर अपने परिवार व जिले का नाम राष्ट्रीय स्तर पर बढ़ाया है। एक तो मुस्लिम समाज उपर से लड़की होना कोकब रिजवान की सफलता के रास्ते में कई कठिन रास्ते थे। लेकिन उन्होंने अपने पिता के मार्गदर्शन में सभी कठिनाईयों को आसानी से पार करते हुए पायलट बनने का सफर पूरा कर अपनी प्रतिभा का परचम लहराया।

उनके पिता रिजवान अहमद इस वक्र फ्लोरिडा लाईफ साईंस इंटर नेशनल दवा कम्पनी बेंगलुरु के निदेशक हैं। कोकब रिजवान जल्द ही सपनों का उड़ान भरने के लिए तैयार है। गुड़गांव में ट्रेनिंग पूरी करने के बाद वह पायलट उड़ाने में सक्षम हो जाएंगी। उसके बाद वह पायलट बनकर विदेशों का चक्कर भी लगाएगी। उन्होंने बेगूसराय में पढ़ी। उसके बाद मुज़फ्फरपुर, दिल्ली, हैदराबाद, दोहा, क़तर, ओक्स फोर्ड एविएशन, यमन में अपनी शिक्षा पूरी की। उनकी जिद थी कि वह एक बेहतर पायलट बनने की।

उनका सपना तब पूरा हुआ जब वर्ष 2020 के अप्रैल में इंडिगो कम्पनी मेन कॉमर्शियल पायलेट में उनका चयन हुआ। लेकिन कोरोना के कारण वह ट्रेनिंग नहीं ले सकी। लेकिन इस माह कंपनी ने उन्हें ट्रेनिंग के लिए गुड़गांव बुलाया है। ट्रेनिंग में आने के लिए जैसे ही पत्र आया है कि वह खुशी से झूम उठी। अपनी खुशी का इजहार अपने परिवार समेत अन्य रिश्तेदारों से साझा की। उसके बाद उन्हें बधाई देने वालों का तांता लगा रहा। कोकब रिजवान का ननिहाल शहर के पोखरिया नवाब चौक के समीप है। उनके नाना स्व. अब्दुल हक शम्सी का सपना था कि उनकी नातिन दुनिया का सैर करे। आज ने दिवंगत नाना का सपना पूरा होता हुआ दिख रहा है। दो बहनों में छोटी बहन कौसर रिज़वान एमबीबीएस बनने के बाद कटिहार मेडिकल कॉलेज मेन इंटरशिप कर रही है।

Input : Hindustan news paper

डेली बिहार न्यूज फेसबुक ग्रुप को ज्वाइन करने के लिए लिंक पर क्लिक करें….DAILY BIHAR  आप हमे फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और WhattsupYOUTUBE पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.