बिहार में आज से चलेंगी बसें, PVT वाहनों को नहीं चाहिए पास, भाड़े में कोई वृद्धि नहीं होगी

PATNA : बिहार के अंदर सोमवार से बसों एवं सभी सार्वजिनक परिवहन का परिचालन शुरू हो जाएगा। साथ ही 8 जून से शॉपिंग मॉल, होटल, रेस्टोरेंट, धार्मिक स्थल भी खुल सकेंगे।

रविवार को क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक में लिए गए निर्णय के अनुसार परिवहन विभाग ने सार्वजनिक परिवहन व्यवस्था को सुचारू रूप से लागू कराने के लिए सभी डीएम, एसएसपी और एसपी को निर्देश दिया है। आधिकारिक सूत्रों के अनुसार परिचालन ‘एक सीट- एक व्यक्ति’ के अनुसार किया जा सकेगा। भाड़े में कोई वृद्धि नहीं होगी।

लॉकडाउन से पूर्व का भाड़ा ही मान्य होगा। वहीं, राज्य में ई-रिक्शा, ऑटो, टैक्सी, ओला, उबर का परिचालन कंटेनमेंट क्षेत्र छोड़कर बाकी जगहों पर होगा। बसों के परिचालन को लेकर विभाग ने सोशल डिस्टेंसिंग समेत कई व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने का भी निर्देश जारी किया है। निजी वाहनों को भी राज्य के अंदर या बाहर आने-जाने के लिए पास की जरूरत नहीं रहेगी।

उधर, गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव आमिर सुबहानी ने केंद्र की गाइडलाइन को बिहार में हू-ब-हू लागू करने का आदेश रविवार को जारी कर दिया। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने शनिवार को लॉकडाउन-4 की समाप्ति के पहले नई गाइडलाइन जारी की थी। इसके तहत राज्य के अंदर या बाहर आने-जाने के लिए निजी वाहनों को पास की बाध्यता नहीं रहेगी। पहले इनको ई-पास लेना अनिवार्य था। हालांकि रात 9 बजे से सुबह 5 बजे तक कफ्र्यू जारी रहेगा।

वहीं, कोरोना संकट के बीच बिहार में 8 जून से कई आर्थिक और सामाजिक गतिविधियां भी शुरू हो जाएंगी। लॉकडाउन को सिर्फ कंटेनमेंट जोन तक सीमित कर दिया गया है। 8 जून से बाकी जगहों पर मॉल, होटल और रेस्टोरेंट खुलेंगे। धार्मिक स्थल भी खुलेंगे और पूजा-पाठ भी होगी।

केंद्र सरकार ने लॉकडाउन-4 के बाद पहले चरण, यानी 8 जून से धार्मिक स्थालों पर पूजा-पाठ की इजाजत दी है। होटल-रेस्टोरेंट के साथ शॉपिंग मॉल भी इसी तारीख से खोले जा सकते हैं। दूसरे चरण में स्कूल-कॉलेज समेत अन्य शिक्षण संस्थानों को खोलने का निर्णय लिया जाएगा। तीसरे चरण में हालात की समीक्षा के बाद अंतरराष्ट्रीय हवाई सफर, सिनेमा हॉल, जिम व स्वीमिंग पूल आदि को खोलने का निर्णय लिया जाएगा।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *