बिहार में भीषण बाढ़, कोसी-बागमती में जलस्तर खतरे के निशान से ऊपर, पूर्णिया, किशनगंज के लोग परेशान

कोसी-बागमती में जलस्तर खतरे के निशान से ऊपर, 24 घंटे में महानंदा में जलस्तर बढ़ने से पूर्णिया, किशनगंज के कुछ क्षेत्र जलमग्न होने के आसार : सुपौल के वसुआ स्थित कोसी नदी में 76 सेंटीमीटर और मुजफ्फरपुर के बेनीबाद स्थित बागमती नदी में 51 सेंटीमीटर पानी का स्तर खतरे के निशान से ऊपर बह रहा है। जिससे आसपास के रहने वाले लोगों ने अपने घरों को छोड़ करके सुरक्षित स्थान पर शरण ली है।

इसके साथ ही 24 घंटे के दौरान पूर्णिया के ढेगराघाट में 74 एमएम और किशनगंज के तैयबपुर में 170 एमएम बारिश हुई है। जिसके प्रभाव से 12 घंटे के दौरान पूर्णिया के स्थित ढेगराबाद के महानंदा नदी में पानी का स्तर खतरे के निशान से 65 सेंटीमीटर और किशनगंज के तैयबपुर स्थित महानंदा नदी पानी का स्तर खतरे के निशान से 50 सेंटीमीटर अधिक होने की संभावना है। जल संसाधन विभाग के मुताबिक ढेगराघाट में जलस्तर खतरे के निशान से महज 3 सेंटीमीटर और तैयबपुर में 27 सेंटीमीटर नीचे हैं।

मुजफ्फरपुर के रुन्नी सैदपुर स्थित बागमती नदी और अररिया के परमान नदी में पानी का स्तर खतरे के निशान से 19 सेंटीमीटर नीचे हैं। ऐसे में यदि 70 एमएम से अधिक बारिश होती है। तो प्रदेश के कई क्षेत्रों में नदी का पानी रिहाइशी क्षेत्रों में आने की संभावना है। जिसको देखते हुए प्रशासन को अलर्ट किया गया है।

डेली बिहार न्यूज फेसबुक ग्रुप को ज्वाइन करने के लिए लिंक पर क्लिक करें….DAILY BIHAR  आप हमे फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और WhattsupYOUTUBE पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.