बिहार में होगा मध्यावधि चुनाव, तेजस्वी का दावा- लालू नहीं चाहते हैं कि राजद-जदयू की दोस्ती

नए वर्ष में बाहर से बिहार लौटे राजद नेता तेजस्वी यादव ने कहा-राजद कभी जदयू के साथ जाएगा, अब इसका सवाल ही नहीं है। इस तरह का सवाल उठाना ही गलत है। जिस दल का कोई सिद्धांत नहीं, उसके साथ राजद का गठबंधन कैसे हो सकता है। वैसे भी जनता ने इस दफे जदयू के खिलाफ जनादेश दिया है। जदयू अभी राज्य में तीसरे नंबर की पार्टी है। वह तो चौथे नंबर पर होती, पर चुनाव आयोग की कृपा से तीसरे नंबर की बन गई। हमारी राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद से बात हो चुकी है। उसके मुताबिक, जदयू से फिर दोस्ती की कोई गुंजाइश नहीं है।

नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी प्रसाद यादव ने शुक्रवार की शाम पटना पहुंचने पर फिर सरकार पर निशाना साधा। सरकार के अस्थिर होने का दावा करते हुए उन्होंने कहा कि बिहार में मध्यावधि चुनाव होना तय है। तेजस्वी ने कहा कि उन्होंने अपनी पार्टी के नेताओं से मध्यावधि चुनाव के लिए तैयार रहने को कह दिया है। उन्होंने महागठबंधन में जदयू के साथ आने की चर्चाओं को खारिज किया। कोरोना वैक्सीन को लेकर उन्होंने कहा कि ऐसा लग रहा है जैसे वैक्सीन विशेषज्ञों ने नहीं भाजपा ने बनाई है।

नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि अभी भाजपा को कुछ फैसले कराने हैं, इसीलिए सरकार चल रही है। मगर यह सरकार ज्यादा दिन चलने वाली नहीं है। आरोप लगाया कि मौजूदा सरकार से जनता त्रस्त है। जदयू से दोस्ती के सवाल पर उन्होंने कहा कि हमने किसी को महागठबंधन में आने का कोई ऑफर नहीं दिया है। नीतीश जी के साथ जाने का कोई सवाल ही नहीं है।

कोरोना वैक्सीन को लेकर कहा कि भाजपा के नेता तो वैक्सीन बनाने नहीं गए थे। इसे तो विशेषज्ञों ने बनाया है। क्या भाजपा नेता नित्यानंद राय ने वैक्सीन बनायी है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार पहले वैक्सीन को लेकर सारी प्रक्रिया तो पूरी करे।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *