बिहार के खगड़िया मे बनेगा बिहार का तीसरा सबसे बड़ा पशु आहार कारखाना, किसानों की होगी चाँदी

कोशी तथा सीमान्चल क्षेत्र के किसान को सरकार बड़ा तोहफा देने जा रही है। खगड़िया के महेशखुट मे बिहार का तीसरा बड़ा पशु आहार कारखाना खोलने की घोषणा की गई है। इस कारखाने को खोलने मे 36 करोड़ रूपए की लागत आने की सम्भावना है। इस कारखाने से यहाँ के स्थानीय लोगो को बड़ा फायदा होगा और उनके लिए रोजगार के अवसर उत्पन्न होंगे।

जानकारी के मुताबिक इस कारखाने के निर्माण के लिए युद्ध स्तर पर प्रयास जारी है। कहा जा रहा कि मार्च 2022 से निर्माण कार्य शुरू होने की पूरी उम्मीद है। यह निर्माण कार्य confort पटना की तरफ से कराया जा रहा है लेकिन यह बरौनी डेयरी के अधीन है। कारखाने के उद्द्घाटन होते ही यहाँ मक्का का उत्पादन करने वाले किसानों को बड़ा फायदा होगा। जानकारी के अनुसार बिहार के सिर्फ दो जिले पटना और मुजफ्फरपुर मे सुधा की फैक्ट्री है जबकि तीसरे फैक्ट्री का निर्माण बिहार के खगड़िया मे किया जाने वाला है। इस कारखाने को स्व सन्चालित मशीन से लैस किया जाएगा जिससे हर रोज़ तीन सौ मी ट्रिक टन का उत्पादन हो सकेगा।

फिलहाल कोसी और सीमान्चल क्षेत्र के किसान को पशुपलको किसानों को सुधा दाना पटना तथा रान्ची के फैक्ट्री से मुहैया कराया जाता था। लेकिन महेश खुंट मे कारखाना शुरू किए जाने के बाद यहाँ का तैयार दाना खगरिया , बेगुसराय्, लखीसराय, पटना के बाढ़ अनुमंडल, और समस्तीपुर, सहरसा तथा सुपौल तक भेजे जाएंगे। यह किसानों को सस्ते दर पर उपलब्ध होगा। यह कारखाना शुरू होने के बाद यहाँ हर रोज़ 45 मीट्रिक टन मक्के की आवश्यकता होगी। इससे यहाँ मक्का का उत्पादन कर रहे किसानों को मक्का बिक्री के लिए एक नया स्थल मिलेगा। बता दे कि इस कारखाना के शुरू होने के बाद 500 से अधिक लोगों को रोजगार मिलेगा।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *