RCP सिंह, पारस के मंत्री बनने के बाद बिहार की राजनीति पर क्या प्रभाव पड़ेगा, अब खेला होबे कि ना होबे

राजनीति में कवच का बड़ा महत्व होता है। नीतीश कुमार ने बिहार की राजनीति में जो स्वर्णिम सफर तय किया है उसमें उनके सहयोगी ललन सिंह की भूमिका बेहद खास रही है। जब भी नीतीश सियासी चक्रव्यूह में फंसे ललन सिंह ने ना केवल उस चक्रव्यूह को भेदा है बल्कि नीतीश के ढाल भी बने हैं। कल केंद्रीय मंत्रिमंडल का विस्तार होना है। नीतीश कुमार की पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष रामचंद्र प्रसाद सिंह ने कह दिया है मंत्रिमंडल विस्तार में पार्टी शामिल होगी।

चर्चा है कि जेडीयू को एक कैबिनेट और एक राज्य मंत्री का चेहरा देगी। ऐसे में आरसीपी सिंह और ललन सिंह का एक साथ मंत्री बनना नामुमकिन है। ललन सिंह अगर मंत्री नहीं बनते हैं तो शायद नीतीश कुमार की यह सबसे बड़ी राजनीतिक भूल होगी। फिलहाल कैबिनेट विस्तार का इंतजार करिए और उम्मीद करिए कि ललन सिंह मंत्रिमंडल में शामिल हों क्योंकि अगर ऐसा नहीं हुआ तो…

बताते चलें कि पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के दूसरी बार सत्ता में आने के बाद आज यानी बुधवार की शाम को पहली बार कैबिनेट विस्तार (Cabinet Expansion) होगा. वहीं, इस बार बिहार एनडीए में शामिल जेडीयू (JDU) ने भी इसमें शामिल होने की हामी भरने के साथ चार मंत्री पद मांगे हैं. सूत्रों के मुताबिक, जेडीयू ने दो कैबिनेट और दो राज्‍य मंत्री बनाए जाने की मांग रखी है. सूत्रों के मुताबिक, मंगलवार को जेडीयू के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष आरसीपी सिंह (RCP Singh) की बीजेपी के एक बड़े नेता से मुलाकात हुई थी. हालांकि इससे पहले सिंह ने कहा था कि सब कुछ तय हो गया है और अब कोई पेच नहीं फंसा है.

बहरहाल, जेडीयू की चार मंत्री पद की मांग के बाद मामला फंसता नजर आ रहा है. सूत्रों के मुताबिक, बिहार के अपने सहयोगी जेडीयू को बीजेपी दो कैबिनेट पद देने के लिए राजी नहीं है. इस बीच कोई दूसरा रास्‍ता निकालने की कोशिश की जा रही है. सूत्रों के मुताबिक, जेडीयू कोटे से आरसीपी सिंह और ललन सिंह (Lalan Singh) कैबिनेट मंत्री हो सकते हैं. जबकि दो अन्‍य लोगों को राज्य मंत्री बनाया जा सकता है. इस समय आरसीपी सिंह दिल्‍ली में मौजूद हैं, तो ललन पटना में हैं.

डेली बिहार न्यूज फेसबुक ग्रुप को ज्वाइन करने के लिए लिंक पर क्लिक करें….DAILY BIHAR

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *