केवल 250 रुपये चुकाकर बन सकते हैं पंच और वार्ड सदस्य पद के प्रत्याशी, जानें कैसे

Desk: त्रिस्तरीय बिहार पंचायत चुनाव की तैयारी अंतिम चरणों में है। चुनाव की अधिसूचना अब किसी भी वक्त जारी हो सकती है। उधर सभी पदों पर प्रत्याशियों के नामांकन शुल्क का भी निर्धारण कर दिया गया है। इस बार मुखिया, पंच, सरपंच, वार्ड सदस्य, पंचायत समिति सदस्य और जिला पंचायत सदस्य के पदों पर चुनाव होंगे। निर्वाचन आयोग ने सभी छह पदों के लिए 129 चुनाव चिह्नों की घोषणा भी कर दी है। इसके अलावा कुछ चुनाव चिह्न सुरक्षित भी रखे हैं ताकि उम्मीदवारों द्वारा चुनाव चिह्न बदले जाने का आग्रह किए जाने के बाद उन्हें बदला जा सके। राज्यपाल द्वारा पंचायत चुनाव की अधिसूचना जारी होने के बाद डीएम अपने जिले में सभी छह पदों के नामांकन, नामांकन पत्रों की जांच, समय और प्रत्याशियों के नामांकन वापस लिये जाने की सूचना प्रकाशित कराएंगे।

यह होगा नामांकन शुल्क

प्रत्याशियों के नामांकन शुल्क का भी निर्धारण कर दिया गया है। इसके अनुसार ग्राम कचहरी पंच व पंचायत सदस्य प्रत्याशी का नामांकन शुल्क – 250 रुपये (महिला प्रत्याशी, एससी,एसटी व पिछड़े वर्गों के प्रत्याशी के लिए 125 रुपये), मुखिया व कचहरी सरपंच प्रत्याशी- 1000 रुपये (महिला प्रत्याशी, एससी,एसटी व पिछड़े वर्गों के प्रत्याशी का 500 रुपये), जिला परिषद सदस्य प्रत्याशी को- 2000 रुपये (महिला प्रत्याशी, एससी,एसटी व पिछड़े वर्गों के प्रत्याशी का 1000 रुपये) नामांकन शुल्क के रूप में देने होंगे।

बिहार में कितने पदों पर होंगे पंचायत चुनाव

बिहार पंचायत चुनाव 2021 में इस बार कुल दो लाख 59 हजार 260 पदों पर निर्वाचन होना है। इसमें मुखिया के आठ हजार 387, सरपंच के आठ हजार, वार्ड सदस्य के एक लाख 14 हजार 667, पंचायत समिति सदस्य के लिए 11 हजार 491, जिला परिषदय सदस्य के 1161 और पंच के एक लाख 14 हजार 667 पदों के लिए चुनाव होना है। राज्य निर्वाचन आयोग ने नामांकन करने समेत मतदान और मतणगना का समय निर्धारित कर दिया है। आयोग ने जिलाधिकारियों को कहा है कि नामांकन की अंतिम तिथि के बाद नामांकन पत्रों की जांच में तीन दिनों का अंतर नहीं होना चाहिए। नामांकन पत्रों की जांच एक या एक से अधिक तिथियों को की जा सकती है। नामांकन पत्रों की जांच के बाद नाम वापसी की तिथि अधिकतम दो दिन हो सकती है। नामांकन का समय सुबह 11 बजे से शाम चार बजे तक निर्धारित किया जायेगा। मतदान सुबह सात बजे से शाम पांच बजे तक होगा, जबकि मतगणना सुबह आठ बजे से प्रारंभ होगी।

पंचायत चुनाव की अधिसूचना अब किसी भी वक्त

राज्य निर्वाचन आयोग ने सभी डीएम को पंचायत और ग्राम कचहरी चुनाव को लेकर अपनी तैयारी पूरी करने का निर्देश देते हुए तैयार रहने का निर्देश दिया है। राज्यपाल द्वारा पंचायत चुनाव की अधिसूचना अब किसी भी वक्त जारी हो सकती है। होने के बाद डीएम अपने जिले में सभी छह पदों के नामांकन, नामांकन पत्रों की जांच, समय और प्रत्याशियों के नामांकन वापस लिये जाने की सूचना प्रकाशित कराएंगे।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.