बिहार में 15 मई तक लगा पूर्ण लॉकडाउन, कोरोना को लेकर CM नीतीश का बड़ा फैसला

पटना. बिहार में जारी कोरोना संकट के बीच 15 मई तक के लिए लॉकडाउन (Bihar Lockdown) लगा दिया गया है. सरकार के तमाम दावों के बावजूद बिहार में कोरोना के प्रसार पर नियंत्रण नहीं हो पा रहा है, इस कारण खुद सरकार ने लॉकडाउन का फैसला लिया है. इसको लेकर सीएम नीतीश कुमार (Bihar CM Nitish Kumar) ने ट्वीट किया है.

सीएम नीतीश कुमार ने ट्वीट करते हुए लिखा,’कल सहयोगी मंत्रीगण एवं पदाधिकारियों के साथ चर्चा के बाद बिहार में फिलहाल 15 मई, 2021 तक लाॅकडाउन लागू करने का निर्णय लिया गया. इसके विस्तृत मार्गनिर्देशिका एवं अन्य गतिविधियों के संबंध में आज ही आपदा प्रबंधन समूह (Crisis Management Group) को कार्रवाई करने हेतू निर्देश दिया गया है.’

बिहार में कोरोना से होने वाली मौत की संख्या में भी लगातार वृद्धि देखी जा रही है. ऐसे में कई समूहों व संगठनों से प्रदेश में लॉकडाउन की मांग उठाई जा रही थी. सोमवार को तो पटना हाईकोर्ट ने भी सरकार से पूछा कि आखिर बिहार में कब लॉकडाउन लगाया जाएगा? जबकि इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने भी राज्य में लॉकडाउन लगाने की मांग की थी. इन परिस्थियों के बीच लॉकडाउन पर फैसला लिये जाने की संभावना थी.

बता दें कि पटना हाईकोर्ट ने भी बिहार में कोरोना संक्रमण से बिगड़ते हालातों पर अपनी नाराजगी जाहिर कर चुका है. सोमवार को न्यायमूर्ति चक्रधारी शरण सिंह और न्यायमूर्ति मोहित कुमार शाह की खंडपीठ ने बिहार सरकार से पूछा कि बिहार में लॉकडाउन लगाने की क्या तैयारी है. कब तक राज्‍य में पूर्ण लॉकडाउन लगाया जाएगा. हाईकोर्ट ने सुनवाई करते हुए सरकार के सिस्टम को फ्लॉप बताया था. साथ ही राज्य सरकार से इस मसले पर मंगलवार यानी आज जवाब देने को कहा.

बता दें कि सोमवार को बिहार में कोरोना संक्रमण के 11407 नए मामले सामने आए. जबकि 82 मरीजों की मौत भी हुई. नए मामले सामने आने के बाद राज्य में कोरोना के एक्टिव (सक्रिय) मरीजों की संख्या 1,07,667 पहुंच गई. स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी रिपोर्ट के मुताबिक, सोमवार को राज्य में संक्रमण के 11,407 नए मामलों की पुष्टि हुई. राजधानी पटना में सर्वाधिक 2,028 नए संक्रमित मिले, जबकि गया में 662, बेगूसराय में 510, वैशाली में 1,035, पश्चिमी चंपारण 549 तथा मुजफ्फरपुर 653 नए कोरोना संक्रमित मिले. राज्य में एक दिन में कुल 72,658 नमूनों की जांच की गई.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *