Bihar Sipahi Bharti परीक्षा का रिजल्ट घोषित, यहां देखें कौन-कौन हुआ सफल

Desk: केंद्रीय चयन पर्षद ने बिहार स्वाभिमान पुलिस बटालियन (सिपाही) परीक्षा का परिणाम शुक्रवार को घोषित कर दिया है। इसमें 454 महिला अभ्यर्थियों ने सफलता पाई है। सफल अभ्यर्थियों को अगले महीने 1 मार्च से 25 मार्च तक की अवधि में ज्वाइन करने का निर्देश दिया गया है। छात्र परीक्षा का परिणाम http://www.csbc.bih.nic.in/” rel=”nofollow पर जाकर देख सकते हैं। बता दें कि लिखित परीक्षा का आयोजन पिछले साल चार अक्टूबर को किया गया था। 22 अक्टूबर को लिखित परीक्षा में शामिल 2270 महिला अभ्यर्थी शारीरिक दक्षता परीक्षा (पीईटी) के लिए क्वालीफाई घोषित की गईं थीं। दो और तीन फरवरी को पटना में बिहार स्वाभिमान पुलिस बटालियन (सिपाही) का फिजिकल टेस्ट हुआ था। इसमें 558 सफल अभ्यर्थियों के दस्वावेजों की जांच में 454 अभ्यर्थियों के डॉक्यूमेंट सही पाए गए हैं।

एक मार्च से 25 मार्च तक करना होगा योगदान

अध्यक्ष केएस द्विवेदी ने बताया कि चयनित अभ्यर्थी को एक मार्च से 25 मार्च तक व्यक्तिगत रूप से समादेष्टा, बिहार स्वाभिमान पुलिस बटालियन, बाल्मिकीनगर, बगहा पहुंचकर योगदान करना होगा। निर्धारित अवधि में योगदान नहीं करने पर उम्मीदवारी रद की जा सकती है। योगदान के दौरान शैक्षणिक योग्यता, जन्म तिथि, राज्य का स्थायी निवास प्रमाण पत्र, पहचान पत्र के साथ-साथ संबंधित आरक्षण के लाभ के लिए आवश्यक प्रमाण पत्र की मूल कॉपी उपलब्ध कराना होगा।

कराया जाएगा चरित्र सत्यापन

अध्यक्ष केएस द्विवेदी ने बताया कि सभी चयनित अभ्यर्थियों का शैक्षणिक योग्यता के साथ-साथ चरित्र सत्यापन कराया जाएगा। अभ्यर्थियों द्वारा तथ्यों को छुपाए जाने की स्थिति में संबंधित अयोग्य घोषित की जाएंगी। किसी अभ्यर्थी के विरुद्ध न्यायालय में आपराधिक मामला लंबित होने की स्थिति में नियुक्ति का निर्णय न्यायादेश के आधार पर लिया जाएगा। इसके साथ ही अभ्यर्थियों का चिकित्सकीय परीक्षण भी कराई जाएगी। आंख, कलर ब्लाइंडनेस, श्रवण शक्ति एवं हकलाहट की भी जांच की जाएगी।

दौड़ में 874 अभ्यर्थी हुईं असफल

शारीरिक दक्षता परीक्षा का आयोजन दो और तीन मार्च को शहीद राजेंद्र प्रसाद सिंह राजकीय उच्च विद्यालय (पटना हाईस्कूल), गर्दनीबाग में किया गया था। इसमें 311 अभ्यर्थी दक्षता परीक्षा में शामिल ही नहीं हुए। 1959 अभ्यर्थियों में से 558 अंतिम रूप से सफल घोषित हुईं। विशेष कार्य पदाधिकारी ने बताया कि कदाचार के आधार पर एक, दौड़ के आधार पर 874, शारीरिक दक्षता में 510 तथा अभिलेख सत्यापन के आधार पर 16 अभ्यर्थी असफल घोषित की गईं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *