बिहार के वैशाली में सैक्स रैकेट का भंडाफोड, मायके में रहकर महिला करती थी देहव्‍यापार का धंधा

PATNA : बड़े शहरों में अक्‍सर देह व्‍यापार की शिकायतें मिलती रहती हैं लेकिन यही गंदा काम यदि सुदूरवर्ती गांव में होने लगे तो क्‍या कहेंगे। वैशाली जिले के सुदूर ग्रामीण क्षेत्र में देह व्‍यापार के रैकेट संचालन का भंडाफोड़ हुआ है। महुआ थाना की पुलिस ने इसका पर्दाफाश करते हुए रैकेट चलाने वाली महिला समेत चार युवतियों व 10 युवकों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार महिलाओं में दो कोलकाता की रहने वाली बताई जा रही हैं। घर से कई आपत्तिजनक सामान भी पुलिस ने बरामद किया है।

बाहर से युवतियों को लाकर कराती थी गंदा काम

ग्रामीणों ने बताया कि कई वर्षों से गांव में वह महिला बाहर से युवतियों को लाकर देह व्‍यापार का धंधा कर रही थी। इस धंधे की जानकारी आसपास के लोगों को जब हुई तो आक्रोशित हो उठे तथा संबंधित महिला को चेतावनी दी। लोगों की चेतावनी के बावजूद महिला नहीं मानी। सोमवार को कुछ बाहर के युवक को लोगों ने आते-जाते देखा। तब ग्रामीणों ने इसकी सूचना वरीय पुलिस पदाधिकारी को दी। पकड़े गए 10 युवकों में राजीव राय माधोपुर दिगमरुआ समस्तीपुर एवं वहीं का मो. अख्तर, वैशाली जिले के गोविंद साहनी मौदह बुजुर्ग पातेपुर, अविनाश राय महुआ सिंहराय पूर्वी, शक्ति कुमार करीहो महुआ, मनीष कुमार शादीपुर बंगरा समस्तीपुर, अमित कुमार चांदसराय महुआ एवं वहीं का सचिन कुमार एवं विकास राय महुआ स्टेट बैंक के निकट के रहने वाले हैं। महुआ थानाध्यक्ष कृष्णा नंद झा ने बताया कि पूरे मामले की जांच की जा रही है।

मायके में रहकर महिला करती थी देहव्‍यापार का धंधा : महुआ थानाध्यक्ष कृष्णा नंद झा ने बताया कि पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर महुआ के मुकुंदपुर सिंघाड़ा से देहव्‍यापार का भंडाफोड़ किया है। पुलिस को देह व्यापार गैंग की सूचना मिली थी। पुलिस ने सोमवार को वहां छापेमारी कर चार महिला समेत दर्जनभर लोगों को गिरफ्तार कर थाने पर लाया है। महुआ थाना की पुलिस टीम ने गिरफ्तार लोगों से पूछताछ कर सभी 14 लोगों को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है। रैकेट चलाने वाली महिला अपने मायके में ही बरसों से रह रही थी। पुलिस के अनुसार उसके पति भी अपराधी प्रवृत्ति का है। कुछ ही महीने पूर्व जेल से बाहर आया है।

डेली बिहार न्यूज फेसबुक ग्रुप को ज्वाइन करने के लिए लिंक पर क्लिक करें….DAILY BIHAR  आप हमे फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और ह्वाटसअप पर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं 

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *