विधान सभा कैंटीन में गैस हुआ खत्म, आर्डर करने पर नेताजी को नहीं मिला पनीर पकौड़ा, कचौड़ी, आलू चॉप

विधान परिषद कैंटीन में रसोई गैस खत्म, जांच होगी, विधानपार्षद ने सभापति तक शिकायत पहुंचाई तो कैंटीन मैनेजर को किया गया तलब : बारिश का मौसम… माननीयों की बैठकी पर बैठकी में तलब अधूरी रह गई। मौका विधान परिषद की लॉबी का जहां राजनीति की गूढ़ बातों को भी हल्के ढंग से चर्चा करने लिए प्रदेश के वर्तमान और पूर्व विधायक, विधान परिषद या एमपी का रोज जुटान होता है। शुक्रवार को हुआ यों कि विधानसभा के माननीय उपाध्यक्ष महेश्वर हजारी भी शाम 5 बजे विधान परिषद के लॉबी में पहुंच गये। उस समय अगले दो दिन तक पटना में भाजपा के चलने वाले कार्यक्रमों के संदर्भ में चर्चा शबाब पर थी।

पूर्व मंत्री विजय कृष्ण और विक्रम कुंवर, पूर्व विधायक रामेश्वर चौरसिया और अखलाक अहमद, पूर्व एमएलसी विजय कुमार मिश्रा समेत कई अन्य गणमान्य लोग राज्य की ताजा राजनीतिक स्थिति पर चर्चा में मशगूल थे। सतारुढ़ दल गतिविधि पर सब अपनी-अपनी राय रख रहे थे। तभी महेश्वर हजारी की इशारे पर लॉबी की सेवा करने वाले कैंटिन स्टॉफ ‘कुंवर’ को बुलाया गया। मौसम की नजाकत को देखते हुए गरमा गरम पनीर पकौड़ा, सत्तु कचौड़ी या आलू चॉप के साथ गरमा गरम चाय या कॉफी लाने को कहा गया। कुंवर ने कुछ कहा तो नहीं पर पानी पिलाने के बाद कौन-कौन सुगर फ्री चाय पीने वाले है उनकी गिनती करने लगा।

इस पर विक्रम जी ने कहा- पहले पनीर पकौड़ा या सत्तु कचौड़ी तो लाओ। कुंवर ने डरते-डरते कहा- हुजुर गैसे खत्म बा, खाली चाय पिला सकेनी। तभी जदयू के विधानपार्षद रामवचन राय लॉबी में प्रवेश किये तो माननीय एक साथ उनसे कह पड़े- बताईये क्या स्थिति है, यहां भी गैस खत्म हो जा रहा। आप आज यहां सिर्फ चाय ही पी सकते हैं। फिर रामवचन जी माननीयों के आग्रह पर सभापति अवधेश नारायण सिंह के कक्ष में गये। कुछ देर बाद वो लॉबी में लौटे और सभी को विश्वास दिलाया कि आगे से ऐसा नहीं होगा। हालांकि काफी देर तक यह पूरा मसला चर्चा और गहमागहमी में रहा कि आखिर ऐसा कैसे हुआ।

सभापतिजी जी ने कैंटीन मैनेजर को कड़ा निर्देश दिया है और श्रम संसाधन विभाग के आला अधिकारी के साथ इस संबंध में बैठक करने का आश्वासन भी दिया है। हालांकि रामेश्वर चौरसिया ने कहा कि मिस मैनेजमेंट को बहाना नहीं बनाना चाहिए। मिस मैनेजमेंट मतलब अधिकारियों की गलती है। गलती को दुरुस्त करनी चाहिए।

डेली बिहार न्यूज फेसबुक ग्रुप को ज्वाइन करने के लिए लिंक पर क्लिक करें….DAILY BIHAR  आप हमे फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और WhattsupYOUTUBE पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.