जयमाला मंडप पर हुआ ड्रामा, लाइन कटा और बदल गयी दुल्हन, गनीमत है कि फेरे से पहले बिजली आ गई

मध्य प्रदेश: शादी में बिजली कटी, दुल्हन बदल गई, रस्म होने पर हुआ खुलासा : मध्य प्रदेश के उज्जैन से शादी के दौरान दुल्हनें बदल जाने का मामला सामने आया है. और ये सब बिजली कटौती के कारण हुआ. हुआ यूं कि एक घर की दो बेटियों की एक ही दिन शादी थी. शाम को लाइट चली गई और अंधेरे में शादी की एक रस्म के दौरान दुल्हनों की अदला-बदली हो गई. जब लाइट आई, तब घरवालों को इस अदला-बदली का पता चला. गनीमत है कि फेरे से पहले लाइट आ गई, नहीं तो अंधेरे में दोनों दुल्हनों की शादी अलग-अलग दूल्हों से हो जाती.

आजतक से जुड़े संदीप कुलश्रेष्ठ के मुताबिक ये मामला उज्जैन जिले के असलाना गांव का है. यहां रविवार, 8 मई को रमेशलाल की दो बेटियों निकिता और करिश्मा की शादी दंगवाड़ा गांव के भोला और गणेश से थी. ये दोनों दूल्हे अलग-अलग परिवार से हैं. निकिता की शादी भोला से और करिश्मा की शादी गणेश से तय हुई थी.

बारात लगी, भोजभात लगा, मेहमान आए. मंगलध्वनियां सुनाई दीं. फिर लाइट चली गई. बहुत देर तक नहीं आई. लाइट नहीं रहने की स्थिति में जो हुआ, वो हम आपको बताएंगे.

बारात आने के बाद रात करीब 11.30 बजे एक रस्म हुई. लाइट नहीं थी. दोनों बहनें एक-दूसरे के दूल्हे के साथ बैठ गईं. माई माता पूजन की रस्म के दौरान दोनों दुल्हनों ने अलग-अलग दूल्हों का हाथ पकड़ लिया. निकिता ने गणेश और करिश्मा ने भोला का हाथ पकड़ लिया था. ये नहीं होना था. लेकिन ये हो गया. पूरी पूजा ऐसे ही संपन्न हो गई.

ये रस्म पूरी हो गई. इसके साथ लाइट भी आ गई. फिर पता चला कि दुल्हन बदल गई. या ये भी कह लें कि दूल्हे बदल गए. परिवार वाले दंग. फिर गलती ठीक की गई. सुबह 5 बजे हुए फेरे हुए. तय रिश्ते के आधार पर निर्धारित दूल्हों के साथ दुल्हनों ने सात फेरे लिए.

परिजनों ने बताया कि गांव में आए दिन लाइट जाती है. कई घंटों की बिजली कटौती लंबे समय से हो रही है. शादी वाले दिन भी शाम 7 बजे ही लाइट चली गई थी, जिस वजह से गलतफहमी में ऐसी गड़बड़ हुई. अगर समय पर लाइट न आती, तो हो सकता था कि दूसरे दूल्हे के साथ उनकी शादी भी हो जाती.

डेली बिहार न्यूज फेसबुक ग्रुप को ज्वाइन करने के लिए लिंक पर क्लिक करें….DAILY BIHAR  आप हमे फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और WhattsupYOUTUBE पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.