जातीय जनगणना से तबाह होगा बिहार, भाजपा नेता ने CM नीतीश पर जमकर साधा निशाना

जातीय गणना: ‘हां’ के बाद भाजपा की फिर ना-नुकुर : भाजपा के राज्यसभा सदस्य राकेश सिन्हा ने बिहार में जातीय जनगणना का पुरजोर विरोध किया है। कहा-’यह बिहार में संघर्ष की स्थिति पैदा करेगा।’ उनका सवाल रहा-’दीनदयाल उपाध्याय, डॉ. राममनोहर लोहिया, लोकनायक जयप्रकाश नारायण जातिविहीन समाज के सेनानी रहे, फिर उनके लोग (अनुयायी) जातीय गणना के तरफदार क्यों हैं?

’ खुद इसका जवाब भी दिया-’दरअसल, जब नेता में दृष्टि की कमी होती है, तो वे लोगों, खासकर नौजवानों को जाति-संप्रदाय के नारे से उलझाते हैं। यह दुर्भाग्यपूर्ण है।’ राकेश, शुक्रवार को मीडिया से मुखातिब थे। उन्होंने कहा कि सबसे ज्यादा बिहार के नौजवान आईआईटी, यूपीएससी कंपीट करते हैं। बिहार की यह प्रतिभावान, सुनहरी स्थिति जाति के खेल में सिमट जाए, यह दुर्भाग्यपूर्ण स्थिति होगी। नौजवानों को जातिवाद के खिलाफ खड़ा होना पड़ेगा। जातीय गणना हमें उसी ओर ले जा रही है, जो बिहार में संघर्ष की स्थिति पैदा करेगा। … राजद जैसी पार्टियों के पास कोई दृष्टि नहीं है, सो वे जाति-जाति रटते रहते हैं।

गिरिराज सिंह ने कहा-मुसलमानों की भी जाति गिनी जाए, जनसंख्या नियंत्रण को कानून बने
केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री गिरिराज सिंह जातीय जनगणना के तरफदार हैं मगर उन्होंने कहा कि हर हाल में मुसलमानों की भी जाति गिनी जाए। मुसलमानों में भी कई-कई जातियां, उपजातियां हैं, इन सबकी गिनती हो। ऐसा नहीं कि सिर्फ हिंदुओं की सारी जातियां गिनी जाए और मुसलमानों की सभी जातियों को सिर्फ और सिर्फ मुसलमान मान लिया जाए। गिरिराज, शुक्रवार को मीडिया से मुखातिब थे।

उन्होंने जनसंख्या नियंत्रण के लिए सख्त कानून बनाने की बात कही। केंद्रीय मंत्री ने जातीय गणना के सवाल पर कहा-मैं जातीय गणना का स्वागत करता हूं। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में हुई सर्वदलीय बैठक का स्वागत करता हूं। लेकिन, मुसलमानों की भी जातीय जनगणना होनी चाहिए। यह बहुत जरूरी है। उनका कहना था कि ‘देश में जनसंख्या विस्फोट की स्थिति है। देश, राज्य व समाज, चाहे जिस भी स्तर पर देखें, तेजी से बढ़ती जनसंख्या के खतरनाक नतीजे खुलेआम हैं। जिस गति से विकास हो रहा है, उससे तिगुनी गति से जनसंख्या बढ़ रही है।

बोले राकेश-जातीय जनगणना बिहार में संघर्ष की स्थिति पैदा करेगी, जो कहीं से सही नहीं
केंद्रीय मंत्री ने कहा-मुसलमानों में भी कई-कई जातियां- उपजातियां, सबकी गिनती होनी ही चाहिए
सांसद ने कहा-जब नेता में दृष्टि की कमी होती है, तो वे जाति-संप्रदाय से लोगों को उलझाते हैं, यह दुर्भाग्यपूर्ण

डेली बिहार न्यूज फेसबुक ग्रुप को ज्वाइन करने के लिए लिंक पर क्लिक करें….DAILY BIHAR  आप हमे फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और WhattsupYOUTUBE पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.