अभी-अभी: भ्रष्टाचारियों पर CBI का बड़ा एक्शन, देशभर में 110 जगहों पर अधिकारियों ने मारा छापा

PATNA: सीबीआई इन दिनों स्पेशल ऑपरेशन चला रहा है। इस ऑपरेशन के तहत सीबीआई अधिकारियों ने देसभर में 110 जगहों पर छापेमारी की है। सीबीआई ने भ्रष्टाचार, आ’पराधिक दु’राचार और ह’थियारों की त’स्करी से संबंधित 30 अलग अलग केस दर्ज किए हैं।  2 जुलाई को सीबीआई ने देश के 18 शहरों में 50 ठिकानों पर छापेमारी की कार्रवाई की थी।

अब केंद्रीय जांच एजेंसी सीबीआई ने मंगलवार को देशभर में 110 जगहों पर छापेमारी की। जिन कंपनियों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है उसमें विनसम डायमंड, एसके निट, नैफ्टोगैज, एसएल कंज्यूमर प्रोडक्ट्स, इंटरनेशनल मेगा फूड पार्क, सुप्रीम टेक्स मार्ट जैसी कंपनियां शामिल हैं। कंपनियों के खिलाफ ये कार्रवाई सुबह से ही जारी है। सीबीआई स्टर्लिंग ग्रुप के बांटे गए लोन खातों के बारे में भी बैंकों के रोल की जांच कर रही है।

यह छापेमारी 19 राज्यों में अलग अलग जगहों पर की जा रही है। ये कार्रवाई कंपनियों के प्रोमोटर्स, डायरेक्टर्स के अलावा बैंकों के स्टाफ के खिलाफ की जा रही है। मुंबई, दिल्ली, लुधियाना, ठाणे, वलसाड, पुणे, गया, गुरुग्राम,चंडीगढ़, भोपाल, सूरत, कर्नाटक के कोलार और पलाणी में की है। ये स्पेशल ऑपरेशन 2 जुलाई की खबर के मुताबिक देश में बैंकिंग फ्रॉड को लेकर चलाया जा रहा है। सीबीआई ने कुल 14 मामले दर्ज किए हैं जिसमें करीब 640 करोड़ रुपए की रकम फ्रॉड से जुड़ी है। सीबीआई की ये कार्रवाई 12 राज्यों में की जा रही है।

6 जून को सीबीआई ने एक बड़ी कार्रवाई में पूर्व आईआरएस अधिकारी संजय कुमार श्रीवास्तव के खिलाफ धोखाधड़ी और जालसाजी का मामला दर्ज किया था। श्रीवास्तव उन 12 आईआरएस अधिकारियों में शामिल हैं जिन्हें पिछले महीने अनिवार्य सेवानिवृत्ति दी गई है। श्रीवास्तव पर नोएडा में आयकर आयुक्त रहने के दौरान धोखाधड़ी और जालसाजी का आरोप है। जांच एजेंसी के मुताबिक टैक्स अपील 1 और अपील 2 के दौरान करीब 104 आईटी अपील पर फैसला दिया। सीबीआई ने एक बयान में कहा, “उसने संभवत: अपने आदेश को जून 2019 में अपलोड किया और इसे बैकडेट करते हुए दिसंबर 2018 का दिखाया। उसने 104 आईटी अपील अपलोड किए जिसमें से 13 उनके अधिकार क्षेत्र में नहीं थे।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.