चिन्मयानंद प्रकरण में जिस लड़की का हुआ दु’ष्कर्म पुलिस ने उसी छात्रा को किया गिरफ्तार,

पूर्व केंद्रीय गृह राज्य मंत्री चिन्मयानंद पर दु’ष्कर्म का आरोप लगाने वाली लॉ छात्रा को एसआईटी ने गिरफ्तार कर लिया। अदालत ने छात्रा को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया। छात्रा ‘पर चिन्मयानंद से पांच करोड़ रुपये की रं’गदारी मांगने का आरोप है।

एसआईटी ने कहा कि छात्रा ने खुद चिन्मयानंद से रंगदारी मांगने की बात स्वीकार की है। इधर, छात्रा की जमानत के लिए अर्जी दी गई थी, जो खारिज हो गई। एसआईटी के एसपी भारती सिंह ने बताया कि 22 अगस्त को चिन्मयानंद को फोन कर पांच करोड़ रुपये की मांग की गई थी और नहीं देने पर उनका अ’श्लील वीडियो चैनलों पर चलवाने की धमकी दी गई थी। जांच में मामला सही पाया गया। छात्रा के तीन साथी पहले ही जेल भेजे जा चुके हैं।

चिन्मयानंद से पांच करोड़ की रं’गदारी मांगने के मुकदमे में एसआइटी ने तीनों युवक के साथ लॉ कॉलेज की छात्रा को भी आरोपित बनाया है। तीनों युवकों को एसआइटी पहले ही जेल भेज चुकी है। छात्रा की अग्रिम जमानत की अर्जी पर मंगलवार को कोर्ट ने राहत दी थी और इस मामले की सुनवाई 26 सितंबर को होनी है, लेकिन इसी बीच एसआइटी ने बुधवार को उसे गिरफ्तार कर लिया। मंगलवार को कोर्ट में पेश होने के दौरान एसआइटी ने पूरे समय छात्रा को अपनी निगरानी में रखा था।

छात्रा पहले ही कह चुकी कि चिन्मयानंद उसका एक साल से शो’षण कर रहे थे। उसी के कॉलेज के पूर्व छात्र संजय से उसका परिचय था। उसने पूरा वाकया बताया तो सबक सिखाने के लिए वीडियो बनाने की बात तय हुई। इसी साल जनवरी में आ’पत्तिजनक हाल में चिन्मयानंद के वीडियो बना गए। इसके बाद प्रकरण का रुख बदलने लगा। चिन्मयानंद को सबक सिखाने के साथ ही रुपयों का इंतजाम भी करने की योजना बन गई।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.