CM नीतीश को हाईकोर्ट की फटकार, कहा- क्यों ना स्वास्थ्य विभाग सेना के हवाले कर दिया जाय

राज्य सरकार कोरोना से निपटने में पूरी तौर पर विफल है ऐसे में क्यों नहीं बिहार की स्वास्थ्य व्यवस्था सेना के हवाले कर दिया जाये –हाईकोर्ट

Bihar Lockdown: नीतीश कुमार के फैसले को तेजस्वी यादव ने बता दिया ‘नौटंकी’ : पटना. बिहार की नीतीश सरकार ने कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर 15 मई तक लॉकडाउन (Bihar Lockdown) लगाने का ऐलान कर दिया है लेकिन सरकार के इस फैसले के बाद बिहार में राजनीति शुरू हो गई है. नीतीश कुमार के लॉकडाउन संबंधी ट्वीट पर सबसे पहले तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने पलटवार किया और इसमें पीएम नरेंद्र मोदी को भी निशाने पर लिया. नीतीश कुमार ने जैसे ही ट्वीट कर लॉकडाउन का ऐलान किया तेजस्वी ने लिखा- 15 दिन से समूचा विपक्ष लॉकडाउन करने की माँग कर रहा था लेकिन छोटे साहब अपने बड़े साहब के आदेश का पालन कर रहे थे कि 2 मई तक लॉकडाउन नहीं करना है। अब जब गाँव-गाँव, टोला-टोला संक्रमण फैल गया तब दिखावा कर रहे है। इस संकट काल में तो निम्नस्तरीय नौटंकी और राजनीति से बाहर आइये, बाज आइए।

दूसरी ओर कोरोना के मार को झेल रहे पटना के लोगों ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के द्वारा सम्पूर्ण बिहार में लॉकडाउन को लेकर की गई घोषणा का स्वागत किया है. लोगों का कहना है कि सरकार का यह निर्णय स्वागत योग्य है हम लोग इसका समर्थन करते हैं. बिहार में कोरोना के लगातार बढ़ रहे केस को लेकर कल यानी 5 मई से 15 मई तक लॉकडाउन लगाया गया है. बिहार सरकार ने इसको लेकर गाइडलाइन भी जारी किया है जिसमें शादी-ब्याह जैसे मौकों के लिए छूट भी दी गई है.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *