IPL नीलामी में ‘बिहारी’ क्रिकेटरों का बोलबाला, विराट को हैदराबाद टीम ने 1.90 करोड़ में ख़रीदा

अन्य खिलाड़ियों की बात करें तो एमएस धौनी, मोनू कुमार (चेन्नई सुपर किंग्स) , सौरभ तिवारी, अनुकूल रॉय, ईशान किशन(मुंबई इंडियंस) , विराट सिंह, शाहबाज नदीम (हैदराबाद) , वरुण आरोन (राजस्थान)

IPL के 13वें एडिशन के लिए खिलाड़ियों की निलामी हो चुकी है. अगले साल होने वाले इस आईपीएल में इस बार झारखंड के आठ क्रिकेटर खेलते नजर आएंगे. गुरुवार को हुई नीलामी के बाद से झारखंड का एक क्रिकेटर अचानक से चर्चा में आया. झारखंड के जमशेदपुर के रहने वाले इस क्रिकेटर का 20 लाख रुपये था. मगर, सनराइजर्स हैदराबाद ने 1.90 करोड़ की बोली लगाकर उसे खरीद लिया. नाम विराट सिंह. बाएं हाथ के धांसू बल्लेबाज हैं. जरूरत पड़ने पर गेंदबाजी भी कर लेते हैं. टीम इंडिया की ओर से अंडर-19 खेल चुके हैं. विराट के बल्ले ने हाल ही संपन्न सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी और विजय हजारे ट्रॉफी में आग उगली थी. विराट के रग-रग में क्रिकेट बसा है. आज हम आपको बताएंगे विराट सिंह के बारे में, उनके क्रिकेट के सफर के बारे में….

जमशेदपुर के कदमा के रहने वाले विराट को एमएस धौनी शुरू से ही काफी पसंद करते हैं. वे इंडिया अंडर-19 टीम में खेल चुके हैं. इस सत्र में सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में उन्होंने 10 पारियों में 343 रन बनाये और टी-20 में सबके पसंदीदा खिलाड़ी बन गये. उनकी स्ट्राइक रेट 142.32 की रही, जो आइपीएल के लिए बहुत अच्छा माना जाता है. विराट सिंह ने इस टूर्नामेंट में तीन अर्धशतक लगाये थे. सुपर लीग में एक समय उन्होंने 44 गेंद में 76 रन बनाकर कर्नाटक को हराने की तैयारी कर दी थी.

वहीं उन्होंने विजय हजारे ट्रॉफी व रणजी में भी दमदार पारियां खेलकर क्रिकेट पंडितों का ध्यान अपनी ओर खींचा है. आठ दिसंबर 1997 को जन्मे 22 वर्षीय विराट का पूरा नाम विराट विनोद सिंह है. पहली बार आईपीएल खेलने जा रहे विराट ने 2013-14 में 16 वर्ष की उम्र में फर्स्ट क्लास क्रिकेट में डेब्यू किया था. तब से विराट नियमित रूप से झारखंड के लिए रणजी ट्रॉफी खेल रहे हैं. विराट देवधर ट्रॉफी में भी ईस्ट जोन का प्रतिनिधित्व कर चुके हैं. इसके अलावा विराट विजय हजारे ट्रॉफी में झारखंड की ओर से खेल चुके हैं.

विराट सिंह ने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में 24 मैच खेलते हुए दो शतक और तीन अर्धशतक की मदद से 965 रन बनाए हैं। विराट ने लिस्ट ए के 40 मैचों में 36 की औसत से 1249 रन बनाए हैं. इस दौरान उन्होंने एक शतक और 10 अर्धशतक लगाया. टी-20 में विराट सिंह ने कुल 56 मैचों में 1552 रन बनाए हैं और यहां उनका एवरेज 35.27 का रहा है। ईस्ट जोन की ओर से खेलते हुए विराट ने अपनी टीम को 15 सालों बाद देवधर ट्रॉफी जीताने में महत्वपूर्ण योगदान दिया था। फाइनल में उन्होंने मनोज तिवारी के साथ मिलकर 135 रन की साझेदारी की थी.

विराट सिंह तीन भाइयों में सबसे छोटे हैं. उनसे बड़े विशाल सिंह क्रिकेटर हैं जबकि सबसे बड़े भाई विवेक सिंह पेशे से कॉन्ट्रेक्टर हैं. उनके पिता विनोद सिंह पेशे से बिजनेसमैन हैं जबकि मां रेणू सिंह गृहणीं हैं. विशाल ने बताया कि विराट जमशेदपुर स्थित डीबीएमएस से 12वीं पास आउट हैं. आईपीएल खेलने को लेकर विराट सिंह के परिवार और दोस्तों में खुशी की लहर है.

वहीं अन्य खिलाड़ियों की बात करें तो एमएस धौनी, मोनू कुमार (चेन्नई सुपर किंग्स) , सौरभ तिवारी, अनुकूल रॉय, ईशान किशन(मुंबई इंडियंस) , विराट सिंह, शाहबाज नदीम (हैदराबाद) , वरुण आरोन (राजस्थान)

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *