पैरेंट्स से मनमानी फीस वसूलना पड़ा भारी, दिल्ली के फेमस स्कूल की मान्यता हुई रद्द

नई दिल्ली: सरकार की रोक के बावजूद मनमानी फीस बढ़ाना और पैरंट्स को परेशान करना दिल्ली (Delhi) के एक सरकार को बहुत भारी पड़ा है. केजरीवाल सरकार ने कठोर एक्शन लेते हुए दिल्ली के पीतमपुरा (Pitampura) में बने बाल भारती स्कूल (Bal Bharti School) की मान्यता रद्द कर दी है. 

दिल्ली के शिक्षा निदेशालय (Delhi Directorate of Education) ने बयान जारी कर कहा कि पीतमपुरा के बाल भारती स्कूल का मैनेजमेंट लगातार मनमानी पर उतारू था. निदेशालय की रोक के बावजूद जबरदस्ती करके फीस बढ़ाता जा रहा था और उसने शिक्षा को मुनाफाखोरी का अड्डा बना लिया था. वह पैरंट्स से लगातार गैर-कानूनी वसूली करके उनका शोषण करने में लगा था. 

निदेशालय (Delhi Directorate of Education) ने कहा कि स्कूल मैनेजमेंट को कई नोटिस जारी कर इस बारे में चेताया गया. उसे वार्निंग दी गई कि मनमानी फीस बढ़ाने पर उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जा सकती है लेकिन उसने चेतावनी को जानबूझकर नजरअंदाज किया. साथ ही पैरंट्स का शोषण भी जारी रखा. इसके बाद बाल भारती स्कूल की मान्यता रद्द करने का आदेश जारी कर दिया गया. यह आदेश 2022-23 सेशन से लागू होगा.

शिक्षा निदेशालय ने स्पष्ट किया कि सरकार के इस फैसले से उसमें पढ़ने वाले बच्चों और काम करने वाले स्टाफ पर कोई असर नहीं पड़ेगा. उन्हें पैरंट्स की सहमति मिलने के बाद पास में चाइल्ड एजुकेशन सोसाइटी (Child Education Society) की ओर से संचालित स्कूल या सरकारी स्कूल में ट्रांसफर किए जाएगा. इसके साथ ही पैरंट्स की ओर से पहले से किए गए फीस का भुगतान का एडजस्टमेंट होगा. 

बाल भारती स्कूल में काम करने वाले टीचिंग और नॉन टीचिंग स्टाफ को चाइल्ड एजुकेशन सोसाइटी की ओर से संचालित दूसरे मान्यता प्राप्त स्कूलों में एडजस्ट किया जाएगा. 

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.