IGIMS में मरीज के परिजनों के लिए बनेगा धर्मशाला, मुफ्त में रह सकेंगे लोग, 200 में मिलेगा AC रूम

अाईजीअाईएमएस में दूरदराज इलाज कराने अाने वाले मरीज या फिर परिजनों को अब विश्राम करने के लिए भटकना नहीं पड़ेगा। उन्हें अाधुनिक बुनियादी सुविधाअों से लैस 256 बेड का विश्राम गृह (धर्मशाला) की सुविधा मिलेगी।

पावर ग्रिड कारपोरेशन ने इस अाधुनिक धर्मशाला का निर्माण कराया है। पावर ग्रिड कारपोरेशन सूत्रों के अनुसार इसके निर्माण पर 15 करोड़ रुपए खर्च हुए हैं। निर्माण कार्य पूरा हो चुका है। फिनिशिंग का काम भी अंतिम चरण हैं। मरीज और उनके परिजनों को इस अाधुनिक धर्मशाला की सुविधा अक्टूबर से मिलने लगेगी। इसके लिए एक शुल्क लिया जाएगा। हालांकि शुल्क का निर्धारण अभी नहीं हुअा है। चार मंजिला इस धर्मशाला में डारमेट्री, एसी, नन एसी और सुइट की व्यवस्था होगी। साथ ही साथ वेज, नन वेज और कॉमन किचन की भी व्यवस्था होगी।

कितना शुल्क लगेगा अभी तय नहीं : मेडिकल सुपरिटेंडेंट डॉ. मनीष मंडल के मुताबिक कितना शुल्क लगेगा अभी उसका निर्धारण नहीं हुअा है। पर कोशिश हो रही है एसी रूम का शुल्क 200 से 500 रुपए के बीच रखा जाएगा। धर्मशाला में सिंगल, डबल और ट्रिपल बेड वाले रूम की भी व्यवस्था होगी। इसमें 20 एसी रूम होंगे। खुद बनाकर खाने के लिए कॉमन किचन की व्यवस्था रखी गई है। इसके अलावा वेज और नन वेज किचन की भी व्यवस्था रखी गई है। किचन से खरीदकर भी खाया जा सकता है। धर्मशाला को चलाने के लिए लीज पर दिया जाएगा। इसके लिए टेंडर से निकाला जाएगा। हालांकि रेट संस्थान की अोर से निर्धारित किया जाएगा। भोजन नीचे ही अाकर करना होगा। रूम में ले जाकर खाने या फिर रूम में बनाने की अनुमति नहीं दी जाएगी। डॉ. मंडल ने बताया कि राज्य में पहली बार किसी सरकारी अस्पताल इस तरह के धर्मशाला की व्यवस्था की जा रही है। इससे मरीज और परिजनों को सहूलियत हो जाएगी। उन्हें अधिक पैसे खर्च करके होटल या फिर लॉज में नहीं रहना पड़ेगा।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *