अभी-अभी : डिम्पल यादव नहीं जयंत चौधरी जाएंगे राज्य सभा, अखिलेश यादव ने लिया चौंकाने वाला फैसला

UTTAR PRADESH : अभी अभी एक बड़ी खबर सामने आ रही है। बताया जा रहा है कि यूपी के पूर्व सीएम और सपा नेता अखिलेश यादव ने एक बार फिर चौंकाने वाला फैसला लिया है। ताजा अपडेट के अनुसार इस बार वह अपनी पत्नी डिंपल यादव को राज्य सभा ना भेज कर जयंत चौधरी को सदन भेजने की तैयारी कर रहे हैं। इंडियन एक्सप्रेस की खबर के अनुसार जयंत चौधरी भी राज्यसभा जाएंगे। वह वहां समाजवादी पार्टी (सपा) और राष्ट्रीय लोक दल (रालोद) के साझा उम्मीदवार होंगे। गुरुवार (26 मई, 2022) को यह जानकारी सपा के टि्वटर हैंडल से दी गई। बताया गया, “जयंत सपा और रालोद से राज्य सभा के संयुक्त प्रत्याशी होंगे।”

बताते चले कि समाजवादी पार्टी (सपा) ने पूर्व कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल को समर्थन देकर राज्यसभा भेजने का फैसला किया है। 16 मई को कांग्रेस का ‘हाथ’ छोड़ चुके वरिष्ठ वकील कपिल सिब्बल ने निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर बुधवार को नामांकन दाखिल किया। खुद सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव भी नामांकन के दौरान साथ रहे। कहा जा रहा है कि सपा के वरिष्ठ नेता आजम खान को जमानत दिलाने में अहम भूमिका निभाने के इनाम के तौर पर उन्हें राज्यसभा भेजा जा रहा है। हालांकि, इससे पहले भी सपा के समर्थन से ही सिब्बल उच्च सदन में पहुंचे थे। आइए जानते हैं कि किन वजहों से एक बार फिर अखिलेश ने सिब्बल पर भरोसा जताया है।

डेली बिहार न्यूज फेसबुक ग्रुप को ज्वाइन करने के लिए लिंक पर क्लिक करें….DAILY BIHAR  आप हमे फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और WhattsupYOUTUBE पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.