महागठबंधन की नैया को तेजस्वी-तेजप्रताप ने डूबाया, कांग्रेस ने 1 सीट पर लहराया परचम, RJD 0 पर आउट

चुनाव परिणाम आ चुके हैं। किंतु और परंतु की अब कोई गुंजाइश नहीं है। बिहार में एक सीटकर छोड़कर महागठबंधन का सूपड़ा साफ हो चुका है। जानकारों की माने तो महागठबंधन की यह पराजय एक तरह से तेजस्वी और तेजप्रताप के कारण हुई है। लालू का जेल में बंद होना। तेजप्रताप का बागी रूख अपनाना कहीं ना कहीं महागठबंधन के लिए भारी पड़ा। रिजल्ट पर गौर करें तो महागठबंधन के जो घटक दल कल तक कांग्रेस को बिना जनाधार के बता रहे थे उसी कांग्रेस ने बिहार में एक सीट जीत ली है। हैसियत से अधिक जिस रालोसपा, हम और वीआईपी पार्टी को अधिक सीटें दी गई वह सभी सीटों पर हार चुकी है।

सिर्फ अगर जहानाबाद सीट की बात करें तो राजद उम्मीदवार सुरेंद्र यादव महज उतने वोटों से हारे हैं जितना वोट तेजप्रताप के लालू राबड़ी मोर्चा के उम्मीदवार ने लाया है। पाटलिपुत्रा सीट पर भाई विरेंद्र के समर्थकों ने एक बार फिर मीसा भारती को हराने का काम किया है। राजद के वरिष्ठ नेता ने कहा की इस तरह के चुनावी परिणाम को हार कहना जिम्मेदारी से भागना होगा।

सवर्ण आरक्षण राजद के लिए बना काल : इस चुनाव में राजद को सवर्ण आरक्षण बिल का विरोध करना भारी पड़ गया। वरिष्ठ नेता रघुवंश प्रसाद सिंह, जगदानंद सिंह सहित कई बड़े नेताओं को ना सिर्फ हार का समाना करना पड़ा बल्कि तीन से चार लाख वोटों से हारना पड़ा।

बताते चले की बिहार में लोकसभा की 40 में से 39 सीटों पर एनडीए को अभूतपूर्व विजय मिली है। एक सीट किशनगंज पर परंपरागत रूप से कांग्रेस उम्मीदवार मो. जावेद अशरफ विजयी हुए हैं। यहां जदयू उम्मीदवार को पराजय मिली। शेष 16 सीटों पर जदयू को जीत मिली। भाजपा व लोजपा के सभी 17 और छह प्रत्याशी चुनाव जीत गए हैं। गुरुवार को आए परिणामों में महागठबंधन के घटक दलों राजद, रालोसपा, हम और वीआईपी का सूपड़ा साफ हो गया।

बिहार में जदयू-भाजपा 17-17 तथा लोजपा को 6 सीटों पर चुनाव लड़ रही थी। मधुबनी से भाजपा के अशोक यादव, मुजफ्फरपुर से अजय निषाद तथा बेगूसराय से गिरिराज सिंह को चार लाख से अधिक मतों से जीत मिली है। बेगूसराय से कन्हैया कुमार की उम्मीदवारी चर्चा में रही लेकिन वे हार गए। केंद्र सरकार के सभी मंत्री विजयी हुए। पटना साहिब से रविशंकर प्रसाद ने कांग्रेस के शत्रुघ्न सिन्हा को हराया।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *